भिलाई + दुर्ग

  • Hindi News
  • Chhattisgarh
  • Bhilaidurg
  • अधिराज डेवलपर्स व एजेंट ने प्लॉट के लिए 7 लाख रु लिए, नहीं दिया तो थाने में रिपोर्ट
--Advertisement--

अधिराज डेवलपर्स व एजेंट ने प्लॉट के लिए 7 लाख रु लिए, नहीं दिया तो थाने में रिपोर्ट

प्रॉपर्टी की खरीद-फरोख्त कराने वाले अधिराज डेवलपर्स के मालिक जितेंद्र भाटिया और प्रॉपर्टी ऑनर नवीन चोपड़ा के...

Dainik Bhaskar

Apr 01, 2018, 02:15 AM IST
प्रॉपर्टी की खरीद-फरोख्त कराने वाले अधिराज डेवलपर्स के मालिक जितेंद्र भाटिया और प्रॉपर्टी ऑनर नवीन चोपड़ा के खिलाफ सेक्टर-2 स्ट्रीट 1 क्वाटर नंबर 5ए के रहने वाले कबीर सागर ने सुपेला थाने में केस दर्ज कराया है। उनका आरोप है कि नवीन चोपड़ा ने अधिराज डेवलपर्स को कुम्हारी में अपने प्लाट बिकवाने के लिए हायर किया था। उस दौरान प्लाट खरीदने से उन्हें प्लाट के मालिक से भी मिलवाया गया था और डेवलपर्स के साथ एग्रीमेंट भी दिखाया था। लेकिन जब प्लाट के पूरे पैसे दे दिए गए तो नवीन चोपड़ा ने रजिस्ट्री से इंकार कर दिया।

7 लाख लेने के बाद रजिस्ट्री 6 महीने टाली: कबीर गवेल ने बताया कि साल 2015 में अधिराज डेवलपर्स के मालिक जितेंद्र भाटिया ने उन्हें गुरूदेव विहार नामक एक कालोनी जो कि कुम्हारी कैवल्य पार्क के पास में है, प्लाट नंबर एस-37 एक प्लाट दिखाया था। उस दौरान 1775 हेक्टेयर जमीन खरीदने के लिए उन्होंने रजामंद हो गए। उस दौरान जितेंद्र भाटिया ने प्रॉपर्टी के असली मालिक नवीन चोपड़ा से मुलाकात कराई। नवीन ने अपनी जमीन बेचने के लिए जितेंद्र को हायर करने का एग्रीमेंट भी दिखाया। इसके बाद ही उन्होंने साल 2015 में प्लाट खरीदने के लिए 7 लाख की रकम अधिराज डेवलपर्स के शिव अर्पण बिल्डिंग प्रथम तल दक्षिण गंगोत्री सुपेला स्थित कार्यालय में दी। उस दौरान अधिराज डेवलपर्स के द्वारा रकम के एवज में 26 मई 2015 को रशीद भी दी थी।

X
Click to listen..