• Home
  • Chhattisgarh
  • Bhilaidurg
  • शहर की जरूरत को पूरा करने वाले खरखरा डैम को मोंगरा बैराज से जोड़ने बनाई जाएगी 50 किमी नहर
--Advertisement--

शहर की जरूरत को पूरा करने वाले खरखरा डैम को मोंगरा बैराज से जोड़ने बनाई जाएगी 50 किमी नहर

तांदुला गंगरेल लिंक नहर की तर्ज पर अब राजनांदगांव जिले के मोंगरा बैराज डेम को खरखरा डैम से जोड़ा जाएगा। इस काम को...

Danik Bhaskar | Apr 02, 2018, 02:15 AM IST
तांदुला गंगरेल लिंक नहर की तर्ज पर अब राजनांदगांव जिले के मोंगरा बैराज डेम को खरखरा डैम से जोड़ा जाएगा। इस काम को शासन ने बजट में शामिल किया है। सर्वे के लिए जल संसाधन विभाग को शासन ने 50 लाख रुपए फंड जारी कर दिया है। दोनों बड़े डेम को जोड़ने के लिए करीब 50 किमी लंबी नहर बनाई जाएगी।

योजना दो चरणों में पूरी होगी। प्रथम चरण में मोंगरा को पहले मोहड़ डेम से जोड़ेंगे। फिर मोहड़ को खरखरा डैम से। काम को पूरा होने में करीब तीन साल लगेंगे।

खरखरा डैम को जोड़ा जाएगा मोंगरा से फिर भिलाई को ज्यादा पानी मिलेगा।

तीनों डैम जुड़ने के बाद ये तीन बड़े फायदे होंगे


एनिकट भरे रहने से दूर होगा निस्तारी का संकट

विभाग के ईई एसके टीकम ने कहा सर्वे जल्द शुरू करेंगे। तांदुला गंगरेल की तरह यह भी एक बड़ा प्रोजेक्ट है। जिसके पूरा होने के बाद डेम में गर्मी में भी पानी की कमी नही होगी। तांदुला, खरखरा का पानी अन्य प्रायोजनों के लिए उपयोग में लाया जा सकेगा। सिंचाई भी अधिक रकबे में हो सकेगी। एनिकट भरे रहने से निस्तारी की समस्या दूर होगी। भू जल स्तर भी बना रहेगा।