• Home
  • Chhattisgarh
  • Bhilaidurg
  • आजाद की पुण्यतिथि पर महापुरुषों के जीवन पर आधारित 200 पुस्तकें बांटी
--Advertisement--

आजाद की पुण्यतिथि पर महापुरुषों के जीवन पर आधारित 200 पुस्तकें बांटी

मानव विकास परिषद ने नेहरू नगर स्थित भेलवा तालाब परिसर में अमर क्रांतिकारी चंद्रशेखर आजाद की पुण्यतिथि मनाई। वहां...

Danik Bhaskar | Mar 01, 2018, 02:15 AM IST
मानव विकास परिषद ने नेहरू नगर स्थित भेलवा तालाब परिसर में अमर क्रांतिकारी चंद्रशेखर आजाद की पुण्यतिथि मनाई। वहां पर उपस्थित जनसमूह को महापुरुषों के जीवनी पर आधारित 200 पुस्तकें बांटी गई, जिसमें राष्ट्रहित में उनके महान बलिदानों व योगदान के बारे में बताया गया है।

भेलवा तालाब में एक लाइब्रेरी शुरू की गई है, जहां सभी लोग पुस्तकें लेकर जाएंगे, वापस करेंगे फिर उन्हीं पुस्तकों को दूसरे लोगों के बांटा जाएगा। इस योजना का उद्देश्य राष्ट्र के बलिदानों, राष्ट्र निर्माण में किए गए कार्यों के प्रति लोगों को जागरूक करना है। चंद्रशेखर आजाद की पुण्यतिथि पर परिचर्चा भी हुई, जिसमें आर्ट ऑफ लिविंग के शिक्षक अजय शुक्ला ने बताया आजादी के समय चंद्रशेखर आजाद के घर में बहुत गरीबी थी। उनकी मां बहुत बीमार थी।

पं. जवाहरलाल नेहरू ने उनके इलाज के लिए 200 रुपए दिए थे, लेकिन आजाद ने उन पैसों काे क्रांतिकारियों के लिए दे दिए। जब नेहरू को इस बात का पता चला तो उन्होंने कारण पूछा। तब आजाद का जवाब था कि वह चंद्रशेखर आजाद की मां हैं। वह गरीबी में रहना जानती हैं। हमारे क्रांतिकारी अपने उद्देश्य में सफल नहीं होंगे तो हमें बड़ा दुख होगा। आजाद ऐसे विचारों के धनी थे। मौके पर बाल गंगाधर तिलक, लाला लाजपत राय, टीपू सुल्तान, रामप्रसाद बिस्मिल सहित अन्य महान विभूतियों से जुड़ी पुस्तकें पढ़ने के लिए दी गईं। लाइब्रेरी के प्रभारी राधाकृष्ण शारदा, दीपक साहू, विनय श्रीवास्तव, अनिल डागा आदि उपस्थित थे।