Hindi News »Chhatisgarh »Durg Bhilai» प्रधानमंत्री ट्रॉफी निर्णायक दल ने रेल मिल के अफसरों से रेलपांत उत्पादन के साथ डाटा सेंटर की ली ज

प्रधानमंत्री ट्रॉफी निर्णायक दल ने रेल मिल के अफसरों से रेलपांत उत्पादन के साथ डाटा सेंटर की ली जानकारी

प्रधानमंत्री ट्रॉफी निर्णायक दल के सदस्यों ने दौरे के तीसरे दिन 31 जनवरी को बीएसपी के विविध क्रियाकलापों का वृहद...

Bhaskar News Network | Last Modified - Feb 01, 2018, 02:20 AM IST

प्रधानमंत्री ट्रॉफी निर्णायक दल के सदस्यों ने दौरे के तीसरे दिन 31 जनवरी को बीएसपी के विविध क्रियाकलापों का वृहद मूल्यांकन किया। इसके लिए टीम के सदस्यों की तीन अलग-अलग टीम बनाई गई थी। निरीक्षण के दौरान टीम के सदस्यों ने मार्केटिंग और ग्राहकों से संबंध के साथ ही रेलपांत के उत्पादन की प्रक्रिया को समझा। वहीं सूचना प्रौद्योगिकी से संबंधित चर्चा की और डाटा सेन्टर का जायजा लिया।

देश के सर्वश्रेष्ठ एकीकृत इस्पात संयंत्र के चयन के लिए आईं निर्णायक समूह के सदस्यों ने सुबह में बीएसपी के विभिन्न गतिविधियों का गहन जायजा लिया। इसके तहत पहली टीम के सदस्यों ने संयंत्र के ईडी पीएंडए सभागार में कार्मिक एवं प्रक्रियाएं विषय पर चर्चा की, इसमें मानव संसाधन विकास जैसे विषय भी शामिल थे। इसी टीम ने जीएम इंचार्ज (एमएंडयू) के सभागार में अनुरक्षण एवं उपयोगिताएं के विभागाध्यक्ष से विषयानुकुल विस्तृत चर्चा की। दूसरी टीम ने जीएम इंचार्ज (सेवाएं) सभागार में आर्डर मैनेजमेंट, मार्केटिंग, ग्राहकों से सम्बद्ध प्रक्रियाएं आदि पर विचार-विमर्श किया तथा जीएम (रेल एवं स्ट्रक्चरल मिल) के सभागार में रेल एवं स्ट्रक्चरल मिल के विभागाध्यक्ष से रेल्स उत्पादन से संबंधित जानकारियां भी प्राप्त की। तीसरी टीम ने महाप्रबंधक सभागार में सूचना प्रौद्योगिकी से संबंधित चर्चा की और डाटा सेन्टर का जायजा लिया और ईडी एमएम सभागार में सामग्री प्रबंधन विषय एवं आपूर्तिकर्ता गुप्र के साथ संवाद भी किया।

मार्केटिंग व ग्राहकों से संबंधों की समीक्षा की

तीसरे दिन पीएम ट्राफी दल ने बीएसपी के हर गतिविधियों पर चर्चा की।

दोपहर बाद सदस्यों ने जूनियर अफसरों की जानी राय

दोपहर बाद प्रधानमंत्री ट्रॉफी निर्णायक दल के सदस्यों की पहली टीम ने जीएम (सुरक्षा एवं अग्निशमन सेवाएं) सभागार में विभागाध्यक्ष से सुरक्षा एवं अग्निशमन सेवाएं विषय के बारे में जानकारियां हासिल कीं। उन्होंने संयंत्र के भीतर स्थित व्यावसायिक स्वास्थ्य केन्द्र का वृहद अवलोकन किया। टीम ने संयंत्र के मानव संसाधन विकास केन्द्र में जूनियर अफसरों से विचार-विनिमय किया। संयंत्र के मानव संसाधन विकास केन्द्र में कर्मचारियों से विभिन्न विषयों पर चर्चा भी की।

नए उत्पादों एवं विकास पर अफसरों को किया तलब

आरसीएल बिल्डिंग में दूसरी टीम के सदस्यों ने विभागाध्यक्ष से इस्पात के नये उत्पाद के विकास एवं गुणवत्ता जैसे महत्वपूर्ण विषय पर चर्चा की और ईडी (वित्त एवं लेखा) सभागार में विभागाध्यक्ष से वित्तीय प्रबंधन विषय पर चर्चा की। साथ ही उन्होंने जीएम (मार्केटिंग एवं सीएस) सभागार में उपभोक्ताओं के साथ संवाद किया। तीसरी टीम के सदस्यों ने पर्यावरण प्रबंधन विभाग के विभागाध्यक्ष से संयंत्र द्वारा पर्यावरण संरक्षण की दिशा में उठाए जा रहे पहल के संबंध में विस्तृत चर्चा की तथा एन र्जी सेंटर के विभागाध्यक्ष से ऊर्जा प्रबंधन विषय पर विस्तारपूर्वक जानकारियां भी लीं। उन्होंने मानव संसाधन विकास केन्द्र में ठेका श्रमिकों से भी संवाद किया।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Durg Bhilai

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×