• Hindi News
  • Chhattisgarh
  • Bhilaidurg
  • रविवि में आज से विशेष विलंब शुल्क के साथ आवेदन, 1.38 लाख फॉर्म हुए जमा
--Advertisement--

रविवि में आज से विशेष विलंब शुल्क के साथ आवेदन, 1.38 लाख फॉर्म हुए जमा

पं.रविशंकर शुक्ल विश्वविद्यालय की वार्षिक परीक्षा में इस बार 20 हजार कम परीक्षार्थी होंगे। विश्वविद्यालय को इस...

Dainik Bhaskar

Feb 01, 2018, 03:15 AM IST
पं.रविशंकर शुक्ल विश्वविद्यालय की वार्षिक परीक्षा में इस बार 20 हजार कम परीक्षार्थी होंगे। विश्वविद्यालय को इस बार 1.38 लाख आवेदन मिले हैं। दुर्ग विश्वविद्यालय की स्थापना के बाद से रविवि की वार्षिक परीक्षा में लगातार परीक्षार्थियों की संख्या कम हो रही हैं। आने वाले बरसों में यह संख्या और कम होने की संभावना है। बुधवार को विलंब शुल्क के साथ ऑनलाइन आवेदन की प्रक्रिया खत्म हुई। अब परीक्षा में शामिल होने के लिए विद्यार्थियों को विशेष विलंब शुल्क के साथ आवेदन करना होगा। प्रतिदिन सौ रुपए के हिसाब से इसका चार्ज होगा।

साल 2016 की वार्षिक परीक्षा में रविवि को 2.64 लाख आवेदन मिले। तब रविवि ने दुर्ग संभाग से जुड़े कॉलेजों की भी परीक्षा ली थी। साल 2017 में रविवि ने दुर्ग संभाग के कॉलेजों की सिर्फ अंतिम वर्ष की परीक्षा ली। इससे परीक्षार्थियों की संख्या घटकर 1.58 लाख हुई। साल 2018 में होने वाली वार्षिक परीक्षा के लिए परीक्षार्थियों की संख्या घटी है। इसके लिए दुर्ग विवि का अलग होना ही मुख्य कारण माना जा रहा है। अफसरों ने बताया कि इस क्षेत्र के वैसे छात्र जो पिछले साल फेल हुए या जिन्हें पूरक की पात्रता मिली अंतिम वर्ष के उन्हीं छात्रों को इस साल रविवि की वार्षिक परीक्षा के लिए आवेदन करने का अवसर दिया गया। इनकी संख्या करीब चार हजार तक है। इन छात्रों के लिए बेमेतरा, भिलाई, दुर्ग, कवर्धा, राजनांदगांव और बालोद में परीक्षा केंद्र रहेंगे। सूत्रों के मुताबिक पिछले कुछ दिनों से वार्षिक परीक्षा के लिए दो से तीन सौ तक ऑनलाइन आवेदन मिल रहे हैं। इसे लेकर ऐसा अनुमान है कि विशेष विलंब शुल्क के साथ आवेदन की प्रक्रिया खत्म होने के बाद भी परीक्षार्थियों की संख्या 1.39 लाख तक रहेगी।

15 तक कर सकेंगे आवेदन : रविवि वार्षिक परीक्षा के लिए 1 से लेकर 15 फरवरी तक विशेष विलंब शुल्क के साथ आवेदन किए जा सकते हैं। इसके तहत परीक्षा के लिए निर्धारित शुल्क, सौ रुपए विलंब शुल्क और प्रतिदिन सौ रुपए के हिसाब से विशेष विलंब शुल्क देना होगा। जबकि 1 फरवरी तक संबंधित कॉलेजों में प्रिंट कॉपी स्वीकार की जाएगी।

इसके बाद विलंब शुल्क के साथ 5 फरवरी तक प्रिंट कॉपी हो सकती है। जबकि विशेष विलंब शुल्क के साथ 20 फरवरी तक कॉलेजों में फार्म जमा होंगे।

वार्षिक परीक्षा में घट रहे परीक्षार्थी

रविवि की वार्षिक परीक्षा में 2016 तक छात्रों की संख्या दो से ढ़ाई लाख थी। लेकिन अब परीक्षार्थियों की संख्या कम हो रही है। साल 2014 में रविवि की वार्षिक परीक्षा के लिए आवेदन करने वाले विद्यार्थियों की संख्या 2.18 लाख थी। साल 2015 में करीब 38 हजार विद्यार्थी बढ़े। संख्या हुई 2.56 लाख। साल 2016 की परीक्षार्थियों की संख्या 2.64 लाख थी। साल 2017 में विद्यार्थी कम हुए। इस साल 1.58 लाख विद्यार्थियों के आवेदन मिले।

समय-सारणी जल्द : रविवि की वार्षिक परीक्षाएं 14 मार्च से शुरू हो सकती है। विश्वविद्यालय से इसकी समय-सारणी तैयार की जा रही है। संभावना है कि जल्द ही यह जारी होगी। ग्रेजुएशन के पर्चे के साथ इस बार भी वार्षिक परीक्षा की शुरुआत होगी। पीजी की परीक्षाएं 20 मार्च से शुरू होने की संभावना है। पिछली बार रविवि की वार्षिक परीक्षा 17 मार्च से शुरू होकर 17 मई तक चली थी।

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..