• Hindi News
  • Chhattisgarh
  • Bhilaidurg
  • 44 हितग्राहियों का राशन रोका, जांच में पाए गए पात्र, फिर भी आवंटन नहीं
--Advertisement--

44 हितग्राहियों का राशन रोका, जांच में पाए गए पात्र, फिर भी आवंटन नहीं

जनपद पंचायत पाटन के आधा दर्जन ग्राम पंचायताें के 44 पात्र हितग्राहियों को पिछले एक साल से राशन नहीं मिल रहा है।...

Dainik Bhaskar

Feb 02, 2018, 02:25 AM IST
44 हितग्राहियों का राशन रोका, जांच में पाए गए पात्र, फिर भी आवंटन नहीं
जनपद पंचायत पाटन के आधा दर्जन ग्राम पंचायताें के 44 पात्र हितग्राहियों को पिछले एक साल से राशन नहीं मिल रहा है। पिछले सत्र में धान खरीदी के दौरान लक्ष्य से ज्यादा धान बेचने सहित अन्य कारणों से इनके राशन कार्ड से राशन आवंटन निरस्त कर दिया गया था। लेकिन जांच के बाद सभी छोटे किसान पाए गए और राशन के लिए पात्र माना गया। इसके बाद भी आज तक इन हितग्राहियों को राशन नहीं मिल रहा।

यह मुद्दा मंगलवार को हुई जनपद की सामान्य सभा में उठा। प्रभावित गांवों के जनपद सदस्यों ने सीईओ से मामले की शिकायत करते हुए पीड़ित हितग्राहियों का ब्यौरा दिया। जनपद सदस्य धनेश्वरी वर्मा ने बताया कि ग्राम कसाहि, सेमरी, सोरम, धूमा, मर्रा, तुलसी खम्हरिया, सेलूद सहित अन्य ग्रामों के 43 राशन कार्डधारियों को पिछले एक साल से राशन नहीं मिल रहा है। इसकी शिकायत एसडीएम व खाद्य विभाग से भी की जा चुकी है। तहसीलदार के माध्यम से इसकी जांच कराई गई। लेकिन राशन मिलना शुरू नहीं हो पाया। जनपद सदस्य ने बताया कि जांच के बाद इन सभी को पात्र पाया गया। इसकी सूची जनपद पंचायत द्वारा कलेक्टर खाद्य शाखा को भेज दी गई है। वहां से भी कोई कार्यवाही नहीं की जा रही।

इसलिए राशन आवंटन किया गया था निरस्त : धान बेचने के समय किसी का सयुंक्त खाता था। कोई परिवार से अलग हो गया था। किसी का बंटवारा हो गया था, लेकिन पटवारी रिकार्ड में खाता अलग नहीं हुआ था। इसलिए इनके खाता में लक्ष्य से ज्यादा धान बिकना दिख रहा था। लेकिन बाद में जांच करवाई गई, जिसमें सभी छोटे किसान पाए गए तो इनको पात्र घोषित किया गया है।

इन हितग्राहियों को राशन नहीं

ग्राम खम्हरिया से देवंतीन, गंजु बाई, मर्रा से उर्वशी, रूखमणी, सेलूद से बिंदु, तुलसी से खेदिन बाई, बोरिद से रूखमणी, खर्रा से सोहद्रा, सेमरी से शकुन, रूखमणी, अन्नपूर्णा, शांति, पार्वती, सेवती, चमरू, बेदीन, राधा बाई, आशा बाई, लता, सोरम से लता, लीला बाई, चंद्रकला, सुनंदा, हेमलता, कांता, कुसुम बाई, लता बाई, रूखमणी, सेमरी से भावना, मोहनी, रूही से ममता, जमराव से धरम बाई, फुंडा से श्याम बाई आदि को जांच में पात्र पाए जाने के बाद भी राशिन का आवंटन नहीं किया जा रहा।

खाद्य विभाग को सूची भेजी


X
44 हितग्राहियों का राशन रोका, जांच में पाए गए पात्र, फिर भी आवंटन नहीं
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..