Hindi News »Chhatisgarh »Durg Bhilai» पीएम आवास के लिए लगा कैंप महापौर के सामने किया विरोध

पीएम आवास के लिए लगा कैंप महापौर के सामने किया विरोध

वार्ड-54 पोटिया के कुंदरापारा में रहने वाले परिवारों को निगम उसी जगह पर पीएम आवास के तहत फ्लैट बनाकर देगा। इसे लेकर...

Bhaskar News Network | Last Modified - Feb 01, 2018, 02:45 AM IST

वार्ड-54 पोटिया के कुंदरापारा में रहने वाले परिवारों को निगम उसी जगह पर पीएम आवास के तहत फ्लैट बनाकर देगा। इसे लेकर बुधवार को कुंदरापारा में शिविर लगाया गया।

शिविर में महापौर चंद्रिका चंद्राकर भी पहुंची। जहां स्थानीय लोगों द्वारा उनका विरोध किया गया। स्थानीय लोगों का आरोप था कि उन्हें अनावश्यक बोरसी में विस्थापित करने की तैयारी की जा रही है। दोबारा उन्हें इस जगह पर मकान नहीं मिलेगा। वहीं आसपास के कॉलोनाइजर्स को लाभ पहुंचाने के लिए हटाया जा रहा। विरोध के बीच महापौर ने लोगों को शांत करने का भी प्रयास किया। पब्लिक जैसा चाहेगी वैसा काम होगा। बावजूद लोगों ने विरोध जारी रखा। बाद में महापौर मौके से निकल गईं। लोग तब भी हंगामा करते रहे।

चार स्थानों से हटेंेगी स्लम बस्तियां

जानकारी के मुताबिक दुर्ग निगम के तरफ से शहर के 4 जगहों पर स्लम बस्तियों को हटाने की तैयारी की है। जहां पीएम आवास के तहत निर्माण किया जाएगा। और लोगों को मकान बनाकर दिया जाएगा। इसमें कुंदरापारा के अलावा ग्रीन चौक स्थित सदर नाका, मिल पारा, व बोरसी का वृंदानगर शामिल है। कुंदरापारा में सहमति के लिए शिविर लगाया गया था। सहमति के तहत एक पत्रक दिया जा रहा था, जिसे भरकर हस्ताक्षर किया जाना था। इस बीच मौके पर स्थानीय पार्षद अनूप चंदानिया भी पहुंचे। उन्होंने भी निगम की इस कार्रवाई पर आपत्ति की। उनके अलावा सती बाई, मायाराम साहू, सरोजनी बाई, दुलारी बाई, नारद साहू, सदन सिंह सहित अन्य ने विरोध दर्ज कराया। इस क्षेत्र में करीब 600 परिवार हैं। योजना के तहत सहमति से लोगों को मौके पर ही मकान बनाकर दिया जाना है। इसके बाद लोगों का व्यवस्थापन किया जाना है। इसी वजह से निगम की ओर से यह कार्रवाई की जा रही है। इस दिशा में निगम ने अपना काम भी शुरू कर दिया है। इसका लोगों ने विरोध करना शुरू कर दिया है। इसी वजह से महापौर उन्हें समझाने गई थी।

लोगों की सहमति मिलने पर ही उन्हें वहां से हटाया जाएगा

पब्लिक जो चाहेगी वही होगा। यह बात मैने समझाने का प्रयास किया। पीएम आवास के तहत उनकी सहमति से ही उन्हें हटाया जाएगा। यदि वे तैयार नहीं है, तो वहीं रहें। हमने योजना से जुड़े विषयों की ही जानकारी दी। चंद्रिका चंद्राकर, महापौर नगर निगम दुर्ग

कॉलोनाइजरों को लाभ देने के लिए हटा रहे लोगों को

इस जगह पर लोगों को वापस शिफ्ट नहीं किया जाएगा। कॉलोनाइजर्स को फायदा पहुंचाने के लिए हटाया जा रहा। मौके पर बनाकर दिया जाना है, तो पहले एक लाइन में काम शुरू करे, फिर दूसरे में। एक साथ सभी को हटाने का क्या मतलब। अनूप चंदानिया, स्थानीय पार्षद नगर निगम दुर्ग

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Durg Bhilai

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×