• Home
  • Chhattisgarh
  • Bhilaidurg
  • जर्जर स्कूल भवनों को तोड़ने नहीं भेजा प्रस्ताव
--Advertisement--

जर्जर स्कूल भवनों को तोड़ने नहीं भेजा प्रस्ताव

स्कूल शिक्षा विभाग और नगरीय निकायों के जर्जर स्कूलों में अप्रिय घटना होने पर विभाग के प्रमुख अफसरों को जिम्मेदार...

Danik Bhaskar | Mar 01, 2018, 02:45 AM IST
स्कूल शिक्षा विभाग और नगरीय निकायों के जर्जर स्कूलों में अप्रिय घटना होने पर विभाग के प्रमुख अफसरों को जिम्मेदार माना जाएगा। टीएल की बैठक में विभागों के कामकाज की समीक्षा करते हुए कलेक्टर उमेश अग्रवाल ने अफसरों की लापरवाही पर नाराजगी जताई।

चेतावनी देते हुए कहा कि घटना-दुर्घटना होने पर संबंधित विभाग के जिला अधकिारी पर जिम्मेदारी तय करते हुए कार्रवाई की जाएगी। कलेक्टर ने कहा कि पूर्व में कई बैठकों में जर्जर स्कूल भवनों के लिए प्रस्ताव मांगा गया और पत्र के माध्यम से भी निर्देश दिए गए। इसके बावजूद विभाग ने कोई प्रस्ताव नहीं भेजा। अग्रवाल ने नगरीय निकाय क्षेत्रों में संचालित जर्जर स्कूल भवनों की जानकारी लेते हुए कहा िक इन स्कूलों में अप्रिय घटना होने पर संबंधित नगरीय निकाय के अधिकारी पर जवाबदारी तय कर कार्रवाई करें।

कलेक्टर ने जिले के सभी स्कूल, आंगनबाड़ी, स्वास्थ्य केन्द्रों का सुदृढ़ीकरण करने के निर्देश दिए। इसके लिए विभागों को आवश्यक प्रस्ताव बनाकर देने कहा गया। क्षतिग्रस्त और जीर्ण-क्षीण भवनों को डिस्मेंटल के लिए तत्काल प्रस्तुत करने के निर्देश दिए गए। कलेक्टर ने शिक्षा विभाग द्वारा जिले के जीर्ण-क्षीण स्कूल भवनों को चिन्हित कर डिस्मेंटल करने प्रस्ताव भेजें।