• Home
  • Chhattisgarh
  • Bhilaidurg
  • जनआशीर्वाद यात्रा ने टाले कलेक्टरों के तबादले, अब अप्रैल में होंगे
--Advertisement--

जनआशीर्वाद यात्रा ने टाले कलेक्टरों के तबादले, अब अप्रैल में होंगे

रायपुर| बजट सत्र बाद प्रस्तावित प्रशासनिक फेरबदल दो माह के लिए टल गए हैं।मुख्यमंत्री रमन सिंह अब अपनी जन आशीर्वाद...

Danik Bhaskar | Mar 01, 2018, 02:50 AM IST
रायपुर| बजट सत्र बाद प्रस्तावित प्रशासनिक फेरबदल दो माह के लिए टल गए हैं।मुख्यमंत्री रमन सिंह अब अपनी जन आशीर्वाद यात्रा में जिलों से मिलने वाले फीडबैक के बाद फेरबदल करेंगे।इस फेरबदल में दोहरे प्रभार वाले कुछ सचिवों के साथ 3-4 कलेक्टर इधर से उधर होंगे। यह फेरबदल विकास शील के केंद्र ,मयंक वरवड़े के बिहार और श्रुति सिंह को डेपुटेशन पर यूपी के लिए रिलीव कए जाने के कारण भी होना है।

एसीएस सुनील कुजूर से उच्च शिक्षा और कृषि में से एक से मुक्त किए जाने के संकेत हैं। इसी तरह से मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी और प्रमुख सचिव सुब्रत साहू चुनावी कार्यों में तेजी के लिए स्वास्थ्य विभाग से मुक्त हो जाएंगे। आयोग की अनुमति से उन्हें दोहरा प्रभार दिया गया है। वैसे यह भी संकेत हैं कि केवल श्रुति सिंह के स्थान पर गरियाबंद में नए कलेक्टर की पोस्टिंग कर शेष को अप्रैल तक के लिए पेंडिंग किया जा सकता है। टर जैसे मैदानी अफसरों के बड़े पैमाने पर तबादले किए जाएंगे। हाल में एसपी के तबादलों के बाद यह सूची इसी वजह से रोकी गई है।2001 बैच के मयंक वरवड़े भी छत्तीसगढ़ में 5 साल का डेपुटेशन खत्म कर अगले माह मूल कैडर बिहार लौट जाएंगे। 1994 बैच के आईएएस एवं प्रमुख सचिव स्कूल शिक्षा विकास शील केंद्रीय प्रतिनियुक्ति पर दिल्ली चले जाएंगे।



राज्य सरकार ने पारिवारिक कारणों को दृष्टिगत रखते हुए उनको एनओसी दे दी है। बता दें कि उनकी प|ी निधि छिब्बर 6 माह पहले ही केंद्र जा चुकी हैं। निधि, रक्षा मंत्रालय में संयुक्त सचिव हैं। विकासशील को अप्रैल में रिलीव कर दिया जाएगा। उसी दौरान गरियाबंद कलेक्टर श्रुति सिंह भी यूपी के लिए रिलीव कर दी जाएंगी। उनके पति सीआरपीएफ में पोस्टेड हैं।

बलौदाबाजार, बिलासपुर, दुर्ग में नए कलेक्टर बिठाए जा सकते हैं। पावर डिस्ट्रीब्यूशन कंपनी के एमडी अंकित आनंद को भी एक बार फिर कलेक्टर बनाए जाने के संकेत हैं। उन्हें कंपनी में दो साल से अधिक हो गए हैं। कंपनी में उनके काम को देखते हुए बिलासपुर या दुर्ग जैसा बड़ा जिला दिया जा सकता है।