• Hindi News
  • Chhattisgarh
  • Bhilaidurg
  • साहू समाज और ओबीसी वोट बैंक को साधने कांग्रेस का बड़ा सियासी दांव
--Advertisement--

साहू समाज और ओबीसी वोट बैंक को साधने कांग्रेस का बड़ा सियासी दांव

चुनावी साल में एआईसीसी की टीम में ओबीसी वर्ग का चेयरमैन दुर्ग सांसद ताम्रध्वज साहू को बनाकर कांग्रेस ने बड़ा...

Dainik Bhaskar

Mar 30, 2018, 03:25 AM IST
साहू समाज और ओबीसी वोट बैंक को साधने कांग्रेस का बड़ा सियासी दांव
चुनावी साल में एआईसीसी की टीम में ओबीसी वर्ग का चेयरमैन दुर्ग सांसद ताम्रध्वज साहू को बनाकर कांग्रेस ने बड़ा राजनीतिक दांव खेला है। साहू के गुरुवार को राजधानी पहुंचने पर कांग्रेस ने एयरपोर्ट से लेकर कांग्रेस भवन तक शक्ति प्रदर्शन किया। फ्लाइट के दो घंटे देर से पहुंचने के बावजूद एयरपोर्ट से बाहर आते समय धक्का मुक्की की स्थिति बनी। बड़ी मुश्किल से साहू मीडिया के सामने आ सके। इस दौरान भूपेश ने कहा कि ताम्रध्वज साहू समाज में काफी सक्रिय रहे हैं। समाज उनकी नियुक्ति से खुश है और इसका फायदा पार्टी को मिलेगा। ताम्रध्वज ने कहा कि भूपेश बघेल अच्छा काम कर रहे हैं। देश में ओबीसी सेल को मजबूत करने की दिशा में वे काम करेंगे। छत्तीसगढ़ में ओबीसी समुदाय में अच्छी एकजुटता है। साथ ही वे अब चुनाव अभियान में जुटेंगे।

भूपेश बघेल रायगढ़ से बागबाहरा होते हुए सीधे एयरपोर्ट पहुंचे। इसके अलावा रविंद्र चौबे के साथ ही 20 से ज्यादा विधायकों ने एयरपोर्ट पर साहू की अगुवानी की। कांग्रेस भवन में चुनाव अभियान समिति के अध्यक्ष डॉ चरण दास महंत ने भी साहू का स्वागत किया।

अरुण वोरा, छाया वर्मा, मोहम्मद अकबर, लेखराम साहू, जनकराम वर्मा, भोलाराम साहू, अनिला भेड़िया, गिरवर जंघेल, दिलीप लहरिया, तेजकुंवर नेताम, दलेश्वर साहू, पारस राजवाड़े, मनोज मंडावी, संत नेताम, शंकर ध्रुवा, दीपक बैज व पदाधिकारियों ने भी साहू का स्वागत किया। कांग्रेस के ओबीसी वर्ग के राष्ट्रीय अध्यक्ष बने ताम्रध्वज साहू का पार्टी का भेद भुलाकर समाज के नेताओं ने स्वागत किया। वीआईपी रोड स्थित राम मंदिर के पास प्रदेश साहू संघ के अध्यक्ष विपिन साहू के नेतृत्व में कोषाध्यक्ष हनुमत प्रसाद साहू सहित उपाध्यक्ष प्रवीण साहू और अन्य ने स्वागत किया।

दूसरी तरफ, कांग्रेस भवन में भूपेश बघेल के पिता नंद कुमार बघेल ने ताम्रध्वज साहू को एक चिट्ठी सौंपकर सामान्य वर्ग की 51 में से 39 सीटों पर ओबीसी उम्मीदवार को टिकट देने और 12 सीटों पर अल्पसंख्यक और अगड़ी जाति को टिकट देने की मांग की।

छत्तीसगढ़ में ओबीसी बड़ा वोट बैंक

ओबीसी वोट बैंक पर भाजपा और कांग्रेस दोनों दलों की नजर है। छत्तीसगढ़ में ओबीसी वर्ग बड़ा वोट बैंक है। लिहाजा दोनों दल इस वर्ग को अपने साथ करने में लगे हैं। एक तरफ भाजपा प्रचारित कर रही है कि ओबीसी आयोग बनाने का संसद में कांग्रेस ने विरोध किया था। दूसरी तरफ, इस मुद्दे पर ताम्रध्वज साहू ने भाजपा पर पलटवार करते हुए कहा कि ओबीसी आयोग का कांग्रेस ने कभी विरोध नहीं किया। कांग्रेस ने केवल कुछ बिन्दुओं का विरोध किया था।

डालें राहुल पर दबाव भाजपा ने दी चुनौती

भाजपा प्रदेश प्रवक्ता सच्चिदानंद उपासने ने कहा कि ओबीसी वर्ग के वोटों के लालच में ताम्रध्वज साहू को ओबीसी सेल का अध्यक्ष बनाना कांग्रेस की दोमुंही राजनीतिक चाल है। इसी कांग्रेस ने राज्यसभा में ओबीसी आयोग के संवैधानिक दर्जा प्राप्त करने के बिल को ध्वस्त किया है। कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष भूपेश बघेल अब ताम्रध्वज साहू पर दबाव डालें कि वह राहुल गांधी पर ओबीसी आयोग को संवैधानिक दर्जा दिलाने के बिल को तुरंत पारित करवाने में सहयोग करें।

X
साहू समाज और ओबीसी वोट बैंक को साधने कांग्रेस का बड़ा सियासी दांव
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..