• Home
  • Chhattisgarh
  • Bhilaidurg
  • स्टूडेंट्स ने कहा- पेड़, पौधे हैं धरती के शृंगार कटने से बचाएं, नहीं तो होगा बड़ा नुकसान
--Advertisement--

स्टूडेंट्स ने कहा- पेड़, पौधे हैं धरती के शृंगार कटने से बचाएं, नहीं तो होगा बड़ा नुकसान

डीएपी इस्पात सेक्टर-2 के स्टूडेंट्स ने नुक्कड़ नाटक प्रस्तुत कर बताया कि धरती का सही शृंगार पेड़ और पौधे हैं। इसे...

Danik Bhaskar | Jul 14, 2018, 02:15 AM IST
डीएपी इस्पात सेक्टर-2 के स्टूडेंट्स ने नुक्कड़ नाटक प्रस्तुत कर बताया कि धरती का सही शृंगार पेड़ और पौधे हैं। इसे कटने से बचाएं, नहीं तो प्राण वायु ऑक्सीजन नहीं मिलेगी। बढ़ते पर्यावरण प्रदूषण की रोकथाम के लिए नो पॉलीथिन भी कहा। प्लास्टिक का उपयोग रोकने के लिए कहा।

स्कूल में पर्यावरण दिवस के दौरान कक्षा छठवीं की छात्रा दीया दत्ता ने पेड़ लगाओ पर कविता सुनाई। इसके माध्यम से पेड़ लगाने के लिए प्रेरित किया। 5वीं से 8वीं तक के छात्रों ने समूह गान से पर्यावरण की सुंदरता बचाने में पेड़ -पौधों के योगदान की ओर ध्यान आकृष्ट किया। 6वीं की छात्रा आन्या बनर्जी ने अंग्रेजी में कविता सुनाकर प्रकृति की सुरक्षा के प्रति संवेदनशील रहने की बात कही। इसके बाद स्कूल के छात्रों ने नुक्कड़ नाटक से पेड़ पौधों के कटने से हो रही परेशानियां जैसे पर्यावरण प्रदूषण और ग्लोबल वार्मिंग के खतरों से आगाह किया।

स्टूडेंट्स ने पौधे लगाने व सुरक्षा का लिया संकल्प।