Hindi News »Chhatisgarh »Durg Bhilai» टीचर्स स्टूडेंट्स को तकनीकी शिक्षा के साथ मानवीय मूल्यों के बारे में भी बताएं : शास्त्री

टीचर्स स्टूडेंट्स को तकनीकी शिक्षा के साथ मानवीय मूल्यों के बारे में भी बताएं : शास्त्री

अभ्युदय संस्थान अछोटी के योगेश शास्त्री ने कहा कि तकनीकी ज्ञान के साथ मानवीय मूल्यों को भी समझना होगा। तभी हम खुद...

Bhaskar News Network | Last Modified - Aug 11, 2018, 02:15 AM IST

टीचर्स स्टूडेंट्स को तकनीकी शिक्षा के साथ मानवीय मूल्यों के बारे में भी बताएं : शास्त्री
अभ्युदय संस्थान अछोटी के योगेश शास्त्री ने कहा कि तकनीकी ज्ञान के साथ मानवीय मूल्यों को भी समझना होगा। तभी हम खुद के साथ न्याय करने की स्थिति में रहेंगे। हमारा भी काम हो जाए और प्रकृति को किसी तरह का नुकसान न हो इस बात का ध्यान रखते हुए हमें काम करना होगा। नहीं तो इसका खामियाजा सभी लोगों को भुगतान पड़ेगा।

छत्तीसगढ़ स्वामी विवेकानंद तकनीकी विश्वविद्यालय में मानवीय मूल्यों पर 13 अगस्त तक चलने वाली कार्यशाला में उन्होंने कहा कि कार्यक्रम का मुख्य उद्देश्य प्रथम वर्ष में प्रवेश लेने वाले छात्रों का मार्गदर्शन करना है और मानव मूल्यों की शिक्षा से होने वाले लाभ से परिचित कराना है। तकनीकी ज्ञान के साथ मानव मूल्य की शिक्षा देना है। इसमें शिक्षकों की भूमिका अहम साबित होगी। शिक्षकों को पहले समझना होगा कि छात्रों को ऐसी कौन सी शिक्षा दें, जिससे वे अपने खुद के विकास के साथ साथ सामाजिक और राष्ट्रीय उत्तर दायित्वों को समझ सकें। शिक्षकों को भी मानवीय मूल्यों से परिचित होना होगा, ताकि वे नए छात्रों को उसके बारे में उचित तरीके से समझ सकें।

तकनीकी विवि में मानव मूल्य पर चल रही है कार्यशाला।

शिक्षकों को कार्यक्रम का उद्देश्य बताया

कार्यशाला के पहले दिन शिक्षकों को कार्यक्रम के उद्देश्य के बारे में बताया गया। उन्हें बताया गया कि तकनीकी शिक्षा के साथ बच्चों को कैसे मानव मूल्यों के बारे में बताया जाए, ताकि वे इसे आसानी से समझ सकें और उसका क्रियान्वयन कर सकें। कार्यक्रम में टीईक्यूआईपी - थर्ड के को ऑर्डिनेटर एडी पाटिल, यूटीडी के स्टॉफ, टीईक्यूआईपी - थर्ड के अधिकारी और प्रतिभागी उपस्थित थे।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Durg Bhilai

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×