--Advertisement--

चोरी की थीसिस पर पीएचडी कराई तो अब जाएगी नौकरी

थीसिस चोरी करने वाले प्रोफेसरों पर नकेल कसने के लिए यूजीसी के नए नियमों को मंजूरी दे दी है। नए नियमों के अनुसार...

Dainik Bhaskar

Aug 09, 2018, 02:20 AM IST
चोरी की थीसिस पर पीएचडी कराई तो अब जाएगी नौकरी
थीसिस चोरी करने वाले प्रोफेसरों पर नकेल कसने के लिए यूजीसी के नए नियमों को मंजूरी दे दी है। नए नियमों के अनुसार पीएचडी के लिए साहित्यिक की चोरी के दोषी पाए गए शोधार्थी का पंजीकरण रद्द किया जाएगा। इसके साथ ही शोध कराने वाले अध्यापकों की नौकरी भी जा सकती है। मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने यूजीसी को (उच्चतर शिक्षा संस्थानों में अकादमिक सत्यनिष्ठा और साहित्य चोरी की रोकथाम को प्रोत्साहन) विनियम, 2018 को लेकर इस हफ्ते अधिसूचित कर दिया। यूजीसी ने इस साल मार्च में अपनी बैठक में नियमों को मंजूरी देते हुए साहित्यिक चोरी के लिए दंड का प्रावधान किया है। जिसके तहत छात्रों के लिए 10 फीसदी तक साहित्यिक चोरी पर कोई दंड का प्रावधान नहीं है, जबकि 10 से 40 फीसदी के बीच साहित्यिक चोरी पाए जाने पर 6 माह के भीतर संशोधित शोधपत्र पेश करना होगा।

X
चोरी की थीसिस पर पीएचडी कराई तो अब जाएगी नौकरी
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..