Hindi News »Chhatisgarh »Durg Bhilai» हर पल बदलते हैं जीवन के रंग, बुराइयों को छोड़ आप बन सकते हैं अच्छे इंसान

हर पल बदलते हैं जीवन के रंग, बुराइयों को छोड़ आप बन सकते हैं अच्छे इंसान

व्यक्ति यदि बुराई त्याग दे तो वह दुनिया का सर्वश्रेष्ठ व्यक्ति बन सकता है। वह दुनिया का नायक बन सकता है। लोग उसके...

Bhaskar News Network | Last Modified - Aug 12, 2018, 02:20 AM IST

व्यक्ति यदि बुराई त्याग दे तो वह दुनिया का सर्वश्रेष्ठ व्यक्ति बन सकता है। वह दुनिया का नायक बन सकता है। लोग उसके पीछे चलने को मजबूर हो सकते हैं। बस उसे कोई सद्बुद्धि देने वाला गुरु मिल जाए। जैसे वाल्मिकी को देवर्षि नारद मिल गए थे। इसी तरह हम भी अपने भीतर छिपी बुराइयों को त्यागें और नई पीढ़ी के निर्माण में योगदान दें। पथप्रदर्शक बनकर लोगों को नई राह दिखाएं।

यह संदेश देहली पब्लिक स्कूल दुर्ग में नीलगिरी सदन के वार्षिकोत्सव ने नाटक लुटेरे से दिया गया। बच्चों ने इसमें महर्षि वाल्मिकी के पहले के काम, फिर देवर्षि नारद से उनका मिलना, तत्व ज्ञान पाना और उसके बाद उनके जीवन में आए बदलाव को शानदार तरीके से मंचित किया गया। साथ में यह भी बताया गया कि किसी व्यक्ति को सही गुरु मिल जाए तो जीवन में सार्थक परिवर्तन आ जाते हैं, इससे जिंदगी सफल हो जाती है। यह है जीवन का सही रंगमंच। डीपीएस दुर्ग के इस कार्यक्रम में स्कूली बच्चों ने अपनी प्रतिभा से सबका ध्यान अपनी तरफ आर्किषित किया।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Durg Bhilai

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×