• Hindi News
  • Chhattisgarh
  • Bhilaidurg
  • कर्मियों की बहनों को इलाज के लिए नहीं देना पड़ेगा शपथ पत्र
--Advertisement--

कर्मियों की बहनों को इलाज के लिए नहीं देना पड़ेगा शपथ पत्र

भिलाई इस्पात संयंत्र के कर्मियों को अब उन पर आश्रित विधवा, तलाकशुदा बहन, पुत्री, शादीशुदा पुत्र जिनकी आय 3000 से कम हो...

Dainik Bhaskar

Aug 09, 2018, 02:21 AM IST
भिलाई इस्पात संयंत्र के कर्मियों को अब उन पर आश्रित विधवा, तलाकशुदा बहन, पुत्री, शादीशुदा पुत्र जिनकी आय 3000 से कम हो के चिकित्सा सुविधा के लिए पहले की तरह हर साल न्यायिक दंडाधिकारी के समक्ष शपथ पत्र नहीं देना होगा।

पहले कर्मी को अपने आश्रित विधवा या तलाकशुदा पुत्री या बहन की चिकित्सा के लिए हर साल जिला दंडाधिकारी से एप्रूव्ड शपथ पत्र देना होता था। उनकी अभी तक शादी नहीं हुई है और वह कर्मी पर आश्रित है।

सीटू लंबे समय से यह मांग कर रहा था कि यह नियम अमानवीय है क्योंकि जिला दंडाधिकारी के सामने शपथ लेते समय भी कई तरह की औपचारिकताएं पूरी करनी होती है। इस आशय का पत्र विकास चंद्र वरिष्ठ प्रबंधक कार्मिक नियमन ने जारी किया है।

नए नियम के अनुसार अब बीएसपी कर्मियों को कोई शपथ पत्र प्रस्तुत करने की आवश्यकता नहीं होगी, बल्कि एक सादे कागज में निर्धारित प्रारूप में घोषणा पत्र भर कर हस्ताक्षर करना होगा। इससे ही काम चल जाएगा। इस सुविधा से बीएसपी कर्मियों में हर्ष है।

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..