• Home
  • Chhattisgarh
  • Bhilaidurg
  • पोस्टर में बताई महिलाओं की महत्ता और निबंध में बताया सफाई सबके लिए जरूरी
--Advertisement--

पोस्टर में बताई महिलाओं की महत्ता और निबंध में बताया सफाई सबके लिए जरूरी

मॉडर्न लेडी सब कुछ करने में सक्षम है। एक तरफ वह घर-परिवार के बीच की केंद्र बिंदु तो है ही, समाज और संसार का आधार भी...

Danik Bhaskar | Apr 17, 2018, 02:25 AM IST
मॉडर्न लेडी सब कुछ करने में सक्षम है। एक तरफ वह घर-परिवार के बीच की केंद्र बिंदु तो है ही, समाज और संसार का आधार भी वही है। यह संदेश नारी एक धुरी विषय पर हुई पोस्टर प्रतियोगिता के माध्यम से छात्राओं ने यह संदेश दिया। स्वच्छ भारत और स्वस्थ भारत अभियान पर निबंध लिखकर स्वच्छता का संदेश दिया। चल रहे अभियान की जानकारी देकर उन्होंने इनाम जीते।

नारी के सशक्त स्वरूप को बताने के लिए और साफ-सफाई का महत्व बताने के लिए जुनवानी स्थित श्रीशंकराचार्य कॉलेज में नारी एक धुरी और स्वच्छ भारत विषय पर पोस्टर और निबंध प्रतियोगिता हुई। इसका आयोजन भिलाई आईक्यूएसी और भिलाई केन डू पर्वत फाउंडेशन के संयुक्त तत्वावधान में किया गया। कार्यक्रम में सबसे पहले बीएड की छात्रा रूबी केसरी नारी सम्मान पर गीत प्रस्तुत किया। विनीता यादव ने नृत्य की प्रस्तुति दी।

कॉलेज में पोस्टर और निबंध प्रतियोगिता में छात्राओं ने लिया हिस्सा।

सफाई का महत्व बताकर वीणा सातव जीती पोस्टर प्रतियोगिता में पहला ईनाम

पोस्टर प्रतियोगिता में नारी के सबला स्वरूप को प्रस्तुत किया। सफाई के महत्व व अभियान की जानकारी दी। इसके लिए वीणा सातव को पहला पुरस्कार दिया गया। दूसरे स्थान पर श्रीशंकराचार्य कॉलेज की छात्रा उज्ज्वला भोसले रही।

नारी के विभिन्न रूपों को बताकर सुमिता सिंह आईं अव्वल, दिव्या को दूसरा स्थान

निबंध प्रतियोगिता में नारी के विभिन्न रूपों और उसके समाज और परिवार में महत्व को बताने के लिए भिलाई महिला महाविद्यालय की सुमिता सिंह को पहला स्थान मिला। शंकराचार्य की दिव्या मरकाम को इसमें दूसरा स्थान मिला।

निर्णायक खुर्सीपार कॉलेज के हिंदी विभाग की अध्यक्ष डॉ. शीला शर्मा हुई शामिल।

प्रतियोगिताएं प्रतिभाओं को परखने का एक माध्यम

कार्यक्रम की मुख्यअतिथि श्रीगंगाजली फाउंडेशन की अध्यक्ष जया मिश्रा ने कहा कि सभी भारतीयों में एक रचनाकार छिपा होता है। मौका मिलने पर वह स्वयं ही प्रकट हो जाता है। प्रतियोगिताएं प्रतिभाओं को परखने का एक माध्यम है। प्राचार्य डॉ. रक्षा सिंह ने कहा कि कौशल प्रतियोगिताएं कौशल विकास का माध्यम है। मौके पर डॉ. सुषमा दुबे, डॉ. श्रद्धा मिश्रा, डॉ. नीरा पांडेय, प्रीति श्रीवास्तव शामिल हुई।

बाइनरी एप से मिलेगा लेक्चर के वीडियो व कॉपी

अतिथि जया मिश्रा ने महाविद्यालय के एसएसएमवी बाइनरी मोबाइल एप लांच किया। जिसमेंे सभी छात्र-छात्राओं, शिक्षकों, प्राचार्य और अतिरिक्त निदेशक से सीधे संपर्क करने का साधन है। हिंदी और अंग्रेजी माध्यम में पाठ्यक्रम के नोट्स, किताबें और लेक्चर के वीडियो हैं। इसकी सहायता से यदि कोई छात्र किसी कारण से क्लास अटेंड नहीं कर पाया है तो वह पढ़ाई गई चीजें फिर से देख सकेगा।