Hindi News »Chhatisgarh »Durg Bhilai» प्लेटलेट्स जांच की सुविधा के बिना ही संक्रमित क्षेत्र के अस्पतालों में डेंगू का इलाज कर रहा स्वास्थ्य विभाग

प्लेटलेट्स जांच की सुविधा के बिना ही संक्रमित क्षेत्र के अस्पतालों में डेंगू का इलाज कर रहा स्वास्थ्य विभाग

दुर्ग में डेंगू मरीजों की संख्या 200 के पार 125 10-15 मरीज तो चंदूलाल अस्पताल में भर्ती है। इन अस्पतालों...

Bhaskar News Network | Last Modified - Aug 08, 2018, 02:25 AM IST

प्लेटलेट्स जांच की सुविधा के बिना ही संक्रमित क्षेत्र के अस्पतालों में डेंगू का इलाज कर रहा स्वास्थ्य विभाग
दुर्ग में डेंगू मरीजों की संख्या 200 के पार

125

10-15

मरीज तो चंदूलाल अस्पताल में भर्ती है।

इन अस्पतालों में दो दिनों में मिले डेंगू के इतने मरीज

पीएचसी खुर्सीपार: दो दिनों में 88 का डेंगू टेस्ट किया गया, 15 पाजीटिव मिले।

पीएचसी बापूनगर: दो दिनों में 45 का डेंगू टेस्ट किया गया, 12 पाजीटिव मिले।

पीएचसी बैकुंठधाम: दो दिनों में 49 की डेंगू जांच की गई, 07 पाजीटिव मिले।

पीएचसी छावनी: दो दिनों पहले किट दी लेकिन वहां जांच करने वाला नहीं।

अब स्वचलित चिकित्सकीय वाहनों में भी होगी डेंगू की जांच

से 130 मरीज सेक्टर-9 अस्पताल में भर्ती हैं।

30

से 35 मरीज बीएम शाह में।

25

से 30 मरीज स्पर्श अस्पताल में।

5-10

मरीज जिला अस्पताल में भर्ती कराए गए हैं।

डेंगू संक्रमित इलाकों में लोगों के स्वास्थ्य जांच के लिए लगाई गई जिन स्वचलित चिकित्सकीय इकाइयों में सोमवार तक डेंगू जांच की किट नहीं थी, उन सब में मंगलवार को मलेरिया जांच की किट के साथ ही डेंगू जांच की किट उपलब्ध करा दी गई। ऐसे में सबने जो भी डेंगू के संभावित मरीज मिले उनकी मौके पर डेंगू की जांच कर दी। आपको बता दें कि, प्रभावित क्षेत्रों में डेंगू की जांच के लिए विशेष अभियान चलाने कैबिनेट मंत्री प्रेमप्रकाश पांडेय ने निर्देश दिए थे। बताया गया कि, मंत्री पांडेय रोजाना इसकी रिपोर्ट अफसरों से ले रहे हैं। उन्होंने व्यवस्था दुरूस्त करने सख्त निर्देश दिए हैं।

डेंगू से पांच लोगों की मौत के बाद भी जिम्मेदार खानापूर्ति में लगे हुए हैं, प्लेटलेट्स काउंट करने सिर्फ जिला अस्पताल में सुविधा, अधिकांश सरकारी अस्पताल दोपहर बाद हो गए बंद

हेल्थ रिपोर्टर|भिलाई. डेंगू से मौतों के बाद डेंगू संक्रमित क्षेत्र में नए डेंगू मरीजों के इलाज के लिए स्वास्थ्य विभाग ने जिन चार अस्पतालों को चिंहित किया, वहां अब तक प्लेटलेट जांच की सुविधा नहीं है। दैनिक भास्कर के खुलासे के बाद इन सेंटरों पर हुक्मरानों ने डेंगू जांच की किट पहुंचाकर मरीजों को पॉजीटिव व निगेटिव बताने का काम तो शुरू करा दिया है, लेकिन इलाज के लिए सबसे महत्वपूर्ण प्लेटलेट काउंट सिर्फ जिला अस्पताल में ही हो रहा है। डेंगू रोकथाम के लिए कमेटियों की उपेक्षा के कारण इलाज के चारों सेंटर इलाज की बजाय रेफरल सेंटर बनकर रह गए हैं।

टंकी मरोदा के डेंगू इलाज केंद्र पर एक बजे लग गया ताला

डेंगू मरीजों को भर्ती कर इलाज करने के लिए चिंहित किया गया। चौथा सेंटर टंकी मरोदा के सरकारी अस्पताल को बनाया गया है। मंगलवार को भास्कर की टीम वहां का हाल जानने के लिए दोपहर बाद एक बजे पहुंची तो ताला लटका हुआ मिला। पास में रहने वाले एक व्यक्ति से पूछा गया तो बताया कि अभी-अभी यहां के कर्मचारी गए हैं। रोज एक बजे तक यह अस्पताल बंद हो जाता है।

जिसे 10 बेड बता रहे वहां मिले 6 बेड, दो दूसरे को दे दिया उधार

डेंगू रोकथाम में लगे सरकारी तंत्र का आलम यह कि डेंगू मरीजों के इलाज के लिए चार अस्पतालों में से दो 10-10 बेड के अस्पतालों को 24 घंटा सातों दिन संचालित करने की दावेदारी की जा रही है, लेकिन जमीनी स्तर पर जब इनमें से खुर्सीपार के सेंटर को देखा गया तो उसमें कुल छह बेड ही मिले। बताया गया कि दूसरे अस्पतालों को उधार में बेड दिया है।

बापू नगर पीएचसी में तैनात आया भी डेंगू की चपेट में

मौत के बाद सरकारी अस्पतालों में पहुंचाई गई डेंगू जांच की किट सरकारी तंत्र को आइना दिखाने लगी है। बापू नगर अस्पताल में चार दिनों पहले उपलब्ध कराई गई किट और दो दिनों पहले लैब टेक्नीशियन देने का परिणाम हुआ कि वहां तैनात आशा मंजू साहू को जांच करने पर डेंगू निकला है।

कैंप में डेंगू के मरीज, एसआर अस्पताल करेगा मुफ्त में इलाज

कलेक्टर के आवाहन पर मंगलवार को एसआर अस्पताल एवं रिसर्च सेंटर द्वारा छावनी की मंगल बाजार में आयोजित मेडिकल शिविर में जांच करने पर शंकर नगर के 7 वर्षीय ज्योति को डेंगू निकला। घर वाले इसे मौसमी बुखार मान रहे थे, लेकिन डॉ. शीतल यादव ने उसकी मलेरिया डिपार्टमेंट द्वारा दी गई किट से जांच की। उसे अपने अस्पताल में भर्ती करा दिया।

कलेक्टर अग्रवाल बोले- कूलरों की करें सफाई

नगर निगम, जिला चिकित्सालय दुर्ग, राष्ट्रीय शहरी स्वास्थ्य केन्द्र, महिला एवं बाल विकास की संयुक्त टीम ने मंगलवार को छावनी में डेंगू नियंत्रण शिविर आयोजन एवं सफाई अभियान चलाया। कलेक्टर उमेश अग्रवाल, जिला मलेरिया अधिकारी एसके मंडल ने शिविर का जायजा लिया। उन्होंने लोगों से घर के आसपास सफाई रखने और कूलरों में पानी एकत्रित न करने की अपील की। शिविर में डॉक्टरों ने लोगों का स्वास्थ्य परीक्षण कर दवाई का वितरण किया।

मृतकों के परिजनों को प्रदेश सरकार दे 10 लाख रुपए का मुआवजा: मनोज

वार्ड क्रमांक 18 आजाद नगर में डेंगू से हुई बालक की मौत के बाद माहौल गमगीन है। मंगलवार को यहां मृत बालक रवि किशन के घर छत्तीसगढ़ जनता कांग्रेस के नेता और वैशाली नगर विधानसभा सीट से छजकां प्रत्याशी मनोज कुमार पहुंचे। यहां उन्होंने रवि के परिजनों को ढांढस बंधाया। इस दौरान उन्होंने पीड़ित परिवार को 10 लाख रुपए मुआवजा देने की सरकार से की।

डेंगू से बचाव के लिए पूर्व मंत्री कुरैशी ने छावनी में लगाया होम्योपेथी शिविर

पूर्व मंत्री और प्रदेश कांग्रेस कमेटी उपाध्यक्ष बदरुद्दीन कुरैशी के नेतृत्व में कांग्रेस ने डेंगू के रोकथाम के लिए दूसरे दिन छावनी क्षेत्र में होम्योपेथी शिविर का आयोजन किया। कुरैशी ने बताया कि, बचाव के लिए होम्योपेथी की दवा दी गई। पार्षद तुलसी पटेल ने बताया कि शिविर में लोगों ने स्कूल से बच्चों की छुट्टी कराकर बच्चों को दवाई खिलाई।

इधर, मेयर देवेंद्र यादव ने मुख्यमंत्री को लिखी चिट्ठी

मेयर देवेंद्र यादव ने डेंगू के बढ़ते प्रकोप को गंभीरता से लेते हुए सीएम रमन सिंह और स्वास्थ्य विभाग को चिट्ठी है। मेयर यादव ने कहा है, शहर में लगातार डेंगू का प्रभाव बढ़ते ही जा रहा है। इस समय शहर में ऐसी हालात है और शासन द्वारा अब तक इसके लिए कोई ठोस प्रयास नही किए गए हैं और न ही अधिकारियों द्वारा कोई गंभीर कदम उठाए गए है।

महापौर और आयुक्त के खिलाफ थाने में शिकायत

सामाजिक संस्था प्रनाम के अध्यक्ष पवन केसवानी ने डेंगू से हो रही मौतों और बीमारियों के लिए महापौर देवेन्द्र यादव और कमिश्नर केएल चौहान के खिलाफ दो अलग-अलग थानों छावनी और खुर्सीपार में शिकायतें दर्ज कराईं हैं।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Durg Bhilai

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×