Hindi News »Chhatisgarh »Durg Bhilai» मिनीमाता ने सर्व समाज को अधिकार दिलाने का प्रयास किया, आज हर महिला को उनके जैसा बनने की जरूरत

मिनीमाता ने सर्व समाज को अधिकार दिलाने का प्रयास किया, आज हर महिला को उनके जैसा बनने की जरूरत

कम्युनिटी रिपोर्टर | भिलाई-उतई सतनामी समाज और विभिन्न संगठनों ने छग की प्रथम महिल सांसद मिनीमाता की 46वीं...

Bhaskar News Network | Last Modified - Aug 13, 2018, 03:25 AM IST

मिनीमाता ने सर्व समाज को अधिकार दिलाने का प्रयास किया, आज हर महिला को उनके जैसा बनने की जरूरत
कम्युनिटी रिपोर्टर | भिलाई-उतई

सतनामी समाज और विभिन्न संगठनों ने छग की प्रथम महिल सांसद मिनीमाता की 46वीं पुण्यतिथि पर कार्यक्रम रखे। मिनी माता सेवा समिति उतई की सदस्यों ने नागरिकों के साथ उन्हें श्रद्धांजलि दी। उनके बताए रास्तों पर चलने का संकल्प लिया।

मुख्य अतिथि समाज सेवी खोरबाहरा राम टंडन ने महिलाओं को मिनीमाता की तरह बनने के लिए आह्वान किया। पवन बंजारे ने कहा कि उस समय में मिनीमाता ने तमाम संघर्षों के बाद भी अत्याचार निवारण कानून को पास करवाकर पूरे मानव समाज की भलाई की। विशेष अथिति लता सोनवानी ने कहा कि समाज हित में महिलाओं कि भागीदारी को सुनिश्चित करने का प्रयास किया जाना चाहिए। कार्यक्रम में महिलाओं को साड़ी, शाल व श्रीफल से सम्मानित किया गया। नीम के पौधे भी लगाए। जरूरतमंद महिलाओं व बच्चों को सामान बांटा। संयोजक अंबा चतुर्वेदी, प्रेमा बाई, उषा कुर्रे, चमेली मधुकर उपस्थित थे।

कांशीडीह व डुंडेरा में भी कार्यक्रम: ग्राम कांशीडीह में ग्रामीणों ने मिनीमाता की आदमकद प्रतिमा की पूजा की। जनपद सभापति बिंदु देशलहरा, दिनेश देशलहरे, संतोष सपहा, संपत भारती, यशवंत मांडले, ऋषि महिपाल उपस्थित थे। ग्राम डुंडेरा में युवा कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने मिनीमाता को श्रद्धांजलि दी और उनकी याद में पौधे लगाए। सांसद प्रतिनिधि तरुण बंजारे ने कहा कि मिनीमाता स्वतंत्रता प्राप्ति के बाद कांग्रेस पार्टी से प्रथम लोकसभा महिला सांसद चुनी गईं।

पुण्यतिथि

छग की प्रथम महिला सांसद की पुण्यतिथि पर कार्यक्रम, उनके कार्यों को याद कर दी श्रद्धांजलि

उनके आदर्शों पर चलने का आह्वान

भिलाई|प्रदेश की पहली महिला सांसद मिनीमाता की 46वीं पुण्यतिथि रिसाली में मिनीमाता महिला समिति ने कार्यक्रम रखा। मुख्य अतिथि भिलाई-चरौदा महापौर चंद्रकांता मांडले ने माता की प्रतिमा पर माल्यार्पण कर उन्हें श्रद्धांजलि दी। इस अवसर पर समाज के मेधावी बच्चों का सम्मान किया गया। मांडले ने मिनीमाता की जीवनी बताते हुए कहा कि मिनी माता ने महिलाओं को सशक्त बनाने जो योगदान दिया, उसे कभी भुलाया नहीं जा सकता। उनके आदर्शों पर चलने का अाह्वान किया। सहायक उपनिरीक्षक शारदा बंजारे ने महिलाओं को शोषण के खिलाफ मुकाबला करने की सीख दी। सतनाम धाम कल्याण समिति खुर्सीपार ने मिनीमाता की पुण्यतिथि पर कार्यक्रम कराया। गुलशन ढिंढे मौजूद रहे।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Durg Bhilai

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×