Home | Chhatisgarh | Durg Bhilai | वायशेप ब्रिज का ट्रैफिक कम करने रायपुर नाका पर अंडरब्रिज, 7 साल बाद रेलवे सहमत

वायशेप ब्रिज का ट्रैफिक कम करने रायपुर नाका पर अंडरब्रिज, 7 साल बाद रेलवे सहमत

रायपुर नाका पर अंडर ब्रिज निर्माण को लेकर पिछले करीब 7 सालों से अटकी फाइल एक बार फिर चल पड़ी है। रेलवे ने अपने हिस्से...

Bhaskar News Network| Last Modified - May 18, 2018, 02:10 AM IST

1 of
वायशेप ब्रिज का ट्रैफिक कम करने रायपुर नाका पर अंडरब्रिज, 7 साल बाद रेलवे सहमत
रायपुर नाका पर अंडर ब्रिज निर्माण को लेकर पिछले करीब 7 सालों से अटकी फाइल एक बार फिर चल पड़ी है। रेलवे ने अपने हिस्से में अंडरब्रिज के निर्माण को मंजूरी दे दी है। वहीं लोक निर्माण विभाग की सेतु निगम ने भी इसके निर्माण को लेकर काम शुरू कर दिया है। दो दिन पहले ही रेलवे के अधिकारियों ने मौके पर पहुंचकर इसकी नापजोख भी की। अफसरों की माने तो अंडरब्रिज के निर्माण से लगातार वायशेप ब्रिज पर बढ़ता ट्रैफिक का दबाव कम हो जाएगा। इसलिए यह अंडरब्रिज का निर्माण महत्वपूर्ण है।

जानकारी के मुताबिक, रायपुर नाका अंडर ब्रिज का इस्टीमेट तैयार किया जा चुका है। करीब 29 करोड़ रुपए इसके निर्माण पर खर्च किया जाएगा। अंडर ब्रिज की कुल लंबाई 866 मीटर होगी। रायपुर नाका चौक से सिंधिया नगर मार्ग पर बिजली दफ्तर की तरफ से यह अंडर ब्रिज खुलेगा। अंडर ब्रिज की चौड़ाई करीब 40 फिट होगी। ताकि दोनों तरफ से वाहनों की आवाजाही बराबर हो सके।

ट्रैक के हिस्से का काम रेलवे तो बाकी ब्रिज काॅर्पोरेशन करेगा: जानकारी के मुताबिक रेलवे ट्रैक के नीचे के हिस्से का निर्माण रेलवे कराएगा। इसके लिए वह अलग एजेंसी तय होगी। वहीं ट्रैक के बाद के हिस्से का निर्माण लोक निर्माण विभाग का सेतु निगम बनाएगा।

दुर्ग में प्रस्तावित अंडरब्रिज के इंडेक्स पर एक नजर...

वो सब कुछ जो आप जानना चाहते हैं

हैवी ट्रैफिक से लोगों का नहीं होगा सामना

इधर रेलवे ने वायशेप ब्रिज के निर्माण के साथ ही 32 बंगला की तरफ से स्थाई रूप से जहां वाहनों की आवाजाही बंद करा दी। वहीं रायपुर नाका की तरफ से केवल दो पहिया वाहनों की आवाजाही के लिए जगह दी। चार पहिया व अन्य वाहनों को वायशेप से होकर ही जाना आना पड़ता है।

इधर, सुपेला में अंडरब्रिज बनाने लिए सरकार के पास फंड ही नहीं

सुपेला में भी ओवरब्रिज के साथ अंडरब्रिज का निर्माण प्रस्तावित है। लेकिन सरकार और रेलवे के बीच अब तक 50% राशि शेयरिंग के लिए सहमति नहीं हुआ है। यह छग शासन की ओर से अटका हुआ है।

29करोड़

खर्च होंगे अंडरब्रिज निर्माण के लिए

अब पटरी क्रॉस करने नहीं चढ़ना पड़ेगा वायशेप ब्रिज

सरोज ने दिया था प्रस्ताव ताम्रध्वज ने उठाया मुद्दा

तत्कालीन सांसद सरोज पांडेय की डिमांड पर रायपुर नाका अंडर ब्रिज का निर्माण प्रस्तावित किया गया। इसके अलावा धमधा नाका और ठगड़ा बांध अंडर ब्रिज को लेकर भी प्रस्ताव तैयार हुआ, लेकिन मंजूरी नहीं मिली। बाद में इस मामले को वर्तमान सांसद ताम्रध्वज साहू, विधायक अरुण वोरा, स्थानीय पार्षद अरुण सिंह ने उठाया।

866

मीटर लंबाई होगी इस अंडरब्रिज की

40फीट

अंडरब्रिज की चौड़ाई बताई जा रही है

धमधा नाका में अंडरब्रिज निर्माण का बनाया प्रस्ताव

शासन के पास धमधा नाका अंडर ब्रिज का भी प्रस्ताव है। गत वर्ष के वित्तीय बजट में इसे भी छत्तीसगढ़ सरकार ने शामिल किया। बजट में इसे पारित भी किया, लेकिन फंड उपलब्ध नहीं कराया। करीब 6 महीने पहले ठगड़ा बांध रेलवे फाटक पर जरूर अंडर ब्रिज व ओवर ब्रिज का निर्माण शुरू किया गया। अभी काम बंद है।

रायपुर नाका फाटक पर बनेगा अंडरब्रिज।

07

साल से अंडरब्रिज निर्माण की थी मांग

रेलवे निर्माण के लिए तैयार

जनहित संघर्ष समिति के संयोजक शारदा गुप्ता ने इस संबंध में रेलवे को चिट्‌ठी लिखी थी। जिसके जवाब में रेलवे ने बताया कि, ओवरब्रिज व अंडरब्रिज रेलवे द्वारा स्वीकृत है, मगर छग शासन से सहमति नहीं मिली है।

प्रभारी मंत्री ने दी थी मंजूरी

दुर्ग निगम के पार्षद अरुण सिंह ने बताया कि, इस विषय को लेकर हमने स्थानीय लोगों के साथ प्रभारी मंत्री राजेश मूणत से चर्चा की थी। उन्होंने आश्वासन दिया था कि जल्द काम शुरू होगा। इसके बाद रेलवे के अधिकारी अंडर ब्रिज के नापजोख के लिए पहुंचे। रेलवे अधिकारियों ने जानकारी दी कि रेलवे से मंजूरी मिल गई है।

निर्माण की प्रक्रिया शुरू...

अंडर ब्रिज का निर्माण शेयरिंग में किया जाना है। रेलवे ट्रैक का हिस्सा रेलवे तैयार करेगा, इसके बाद आउटर के हिस्से पर काम हम करेंगे। विभाग में यह अंडर ब्रिज निर्माण की प्रक्रिया शुरू हो गई है। शासन स्तर पर प्रस्ताव भेजा गया है। आरपी श्राफ, एसडीओ दुर्ग सेतु निगम दुर्ग

08सालों

से बंद है चार पहिया वाहनों की आवाजाही

वायशेप ब्रिज का ट्रैफिक कम करने रायपुर नाका पर अंडरब्रिज, 7 साल बाद रेलवे सहमत
prev
next
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

Trending Now