• Hindi News
  • Chhattisgarh
  • Bhilaidurg
  • राजनांदगांव में फर्जी आईडी से कमरा, रायपुर बुलाकर की ठगी
--Advertisement--

राजनांदगांव में फर्जी आईडी से कमरा, रायपुर बुलाकर की ठगी

धमतरी के एक कारोबारी से तेलघानी नाका में बुधवार शाम दो ठगों ने 8 लाख की ठगी कर ली। बड़ी प्लानिंग से एक जालसाज ने...

Dainik Bhaskar

Aug 10, 2018, 02:35 AM IST
राजनांदगांव में फर्जी आईडी से कमरा, रायपुर बुलाकर की ठगी
धमतरी के एक कारोबारी से तेलघानी नाका में बुधवार शाम दो ठगों ने 8 लाख की ठगी कर ली। बड़ी प्लानिंग से एक जालसाज ने उन्हें सस्ते में सिगरेट की सप्लाई करने का झांसा दिया था। कारोबारी उसके जाल में फंसे और पैसा लेकर रायपुर आ गए। आरोपी ने उनसे पैसे ले लिए और चकमा देकर भाग निकला। प्रारंभिक जांच में पता चला है कि आरोपी ठग राजनांदगांव से आए थे। वहां एक होटल में ठहरे। कारोबारी से पैसे ठगने के बाद वे वहां से भी फरार हो गए। पुलिस को एक ठग का फुटेज मिल गया है। फुटेज के आधार पर आरोपी की तलाश की जा रही है।

गंज थाना प्रभारी मोहसीन खान ने बताया कि धमतरी के प्रहलाद मुलवानी का पान मसाले का कारोबार है। पांच दिन पहले उनकी दुकान में एक युवक पहुंचा। उसने अपना नाम राधे श्याम अग्रवाल बताकर कहा कि उसका रायपुर में पान मसाला का थोक कारोबार है। वह प्रदेश में सिगरेट की सप्लाई करता है। वह उन्हें मार्केट रेट से एक कार्टून में 500 से 800 रुपए कम में सिगरेट की सप्लाई करेगा। कारोबारी उसके झांसे में आ गए। सौदे के तहत बुधवार को वे पैसे लेकर रायपुर पहुंचे। उन्होंने युवक को फोन किया। युवक ने तेलघानी नाका में मिलने के लिए बुलाया। आरोपी ब्रिज के पास उनका इंतजार कर रहा था। उसने बातों में उलझाकर पैसे ले लिए और कहा कि ऑफिस खुला हुआ है। वह ताला लगाकर आता है क्योंकि गोदाम गंज मंडी के पास है। वहां जाना पड़ेगा।

कारोबारी ऑटो में बैठकर इंतजार करते रहे, लेकिन युवक नहीं आया। आधे घंटे कारोबारी उसे ढूंढने निकले। आसपास तलाश की जब युवक नहीं मिला तब वे गंज थाना पहुंचे। वहां शिकायत की। पुलिस के साथ क्राइम ब्रांच की टीम मौके पर पहुंची। आसपास जांच की, लेकिन आरोपी नहीं मिले।

फर्जी आईडी से बुक कराया होटल और खरीदा सिम

पुलिस की पड़ताल में पता चला कि एक ठग ने 7 दिन पहले राजनांदगांव के एक छोटे से होटल में फर्जी आईडी दिखाकर एक कमरा लिया। वहां के एक कर्मचारी को विश्वास में लेकर उसकी आईडी से सिम लिया और मोबाइल चालू किया। उसी नंबर से वह सभी से संपर्क करता था। धमतरी के कारोबारी के रिश्तेदार राजनांदगांव में है। उन्हीं के माध्यम से वह धमतरी पहुंचा। जहां कारोबारी मुलवानी को झांसे में लिया। प्लानिंग के तहत वह कारोबारी को रायपुर बुलाया, ताकि पुलिस भी उस तक न पहुंच सके। बुधवार सुबह ही उसने होटल छोड़ दिया। वह नांदगांव से लिफ्ट लेकर दुर्ग आया। वहां से बस बैठकर रायपुर आया। ठगी करने के बाद वह बस बैठकर निकल गया। वह कहां का रहने वाला है, किसी को पता नहीं है।

सीसीटीवी फुटेज में आरोपी।

X
राजनांदगांव में फर्जी आईडी से कमरा, रायपुर बुलाकर की ठगी
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..