Hindi News »Chhatisgarh »Durg Bhilai» ट्रेनों का सफाई सिस्टम बदलेगा एक कॉल पर आएंगे कोच मित्र

ट्रेनों का सफाई सिस्टम बदलेगा एक कॉल पर आएंगे कोच मित्र

ट्रांसपोर्ट रिपोर्टर | रायपुर ट्रेनों में सफर के दौरान अब आप कोच मित्र को सीधे कॉल या मैसेज करके सफाई करा...

Bhaskar News Network | Last Modified - Aug 08, 2018, 02:40 AM IST

ट्रांसपोर्ट रिपोर्टर | रायपुर

ट्रेनों में सफर के दौरान अब आप कोच मित्र को सीधे कॉल या मैसेज करके सफाई करा सकेंगे। रायपुर रेल मंडल ने इसकी पहल शुरू कर दी है। रायपुर मंडल ने कोच की सफाई के लिए कोच मित्र योजना को लागू करते हुए नया नंबर जारी कर दिए है।

138 हेल्प लाइन नंबर पर कॉल करने के साथ ही मोबाइल नंबर 9821736069 पर मैसेज भेज सकते हैं। रेलवे के मुताबिक नए नंबर को अमरकंटक एक्सप्रेस से शुरू किया गया है। दुर्ग से छूटने वाली अन्य ट्रेनों में भी शीघ्र ही कोच मित्र सेवा के लिए इन दोनों ही नए नंबर उपलब्ध हो जाएंगे।यात्रा के दौरान साफ-सफाई, पानी, चादरों, लाईट एवं एसी, छोटी-मोटी मरम्मत, पेस्ट कंट्रोल और स्वच्छता से संबंधित सुविधाओं के लिए वेबपेज, एसएमएस के माध्यम से कोच मित्र की सुविधा उपलब्ध है। मंडल की ट्रेनों में कोच मित्र सेवा की सुविधा का लाभ लेने के लिए सुबह 6 से रात 10 बजे के बीच 9821736069 या 138 पर कॉल या मैसेज करना होगा। इससे पहले जारी 58888 हेल्प लाइन नंबर अब 14 अगस्त तक ही रहेगा।

ऐसे करें शिकायत : रेलवे ने कोच में सफाई व अन्य शिकायत के लिए जिन दो नंबरों को जारी किया है, उसके लिए यात्रियों को अलग-अलग कोड के साथ मैसेज करना होगा। C कोड सफाई, E कोड इलेक्ट्रिकल, L चादर व लिनेन के लिए है।



, P कोड पेस्ट कंट्रोल, R छोटी-मोटी किसी मरम्मत, T टॉयलेट क्लीनिंग और W कोड का प्रयोग पानी के लिए है। इन दो नंबरों 9821736069 या 138 पर नंबर यात्री एसएमएस कर सकते हैं। OB स्पेस Code स्पेस पीएनआर नंबर स्पेस के बाद विवरण देकर मैसेज करें या अपना पीएनआर नंबर व फोन नंबर लिखकर coachmitra.indianrail.gov.in पर भेज दें। सुबह 6 से रात 10 बजे तक दिन में दो बार कोचों की सफाई का कार्य तय है। इसके अलावा यात्री की मांग पर 6 बजे से रात 10 बजे के बीच कभी भी सफाई की सुविधा उपलब्ध करायी जा रही है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Durg Bhilai

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×