भिलाई + दुर्ग

--Advertisement--

फर्जी समूह के नाम पर राशन दुकान, जांच के लिए दबिश दी

धमधा ब्लॉक में एक ही व्यक्ति द्वारा अलग-अलग स्वसहायता समूह बनाकर 8 गांवों में सरकारी राशन दुकानों के संचालन के...

Dainik Bhaskar

Apr 17, 2018, 02:45 AM IST
धमधा ब्लॉक में एक ही व्यक्ति द्वारा अलग-अलग स्वसहायता समूह बनाकर 8 गांवों में सरकारी राशन दुकानों के संचालन के मामले की जांच शुरू हो गई है। शुक्रवार को पिथौरा गांव में सरकारी योजनाओं के क्रियान्वयन का हाल देखने पहुंचे कलेक्टर ने यह मामला पकड़ने के बाद जांच के निर्देश दिए थे। अफसरों की टीम ने सोमवार को दिन भर में चार दुकानों की जांच कर ली है।

सहायक खाद्य अधकिारी आनंद मिश्रा ने बताया िक 8 दुकानों की जांच करना है। इसमें से 4 दुकानों की जांच पूरी हो गई है। राशन दुकान के संचालन और राशन वितरण से संबंधित सभी दस्तावेजों का परीक्षण किया गया। जांच में गड़बड़ी का पता नहीं चला है। जांच का काम जारी है। बाकी चार दुकानों में जांच पूरी करने के बाद रिपोर्ट तैयार की जाएगी। पिथौरा में ग्रामीणों ने कलेक्टर को मामले की शिकायत की थी।

सेल्समैन ने हफ्ते में तीन दिन चला रहा था दुकान...


कलेक्टर अग्रवाल ने दिए थे मामले में जांच के निर्देश

कलेक्टर ने फूड कंट्रोलर सीपी दीपांकर को सेल्समैन का बयान लेकर फौरन जांच शुरू करने कहा। सोमवार को दिन भर चली जांच के बाद अफसरों ने बताया कि चारों राशन दुकानों के स्व सहायता समूहों के रजिस्टर व अन्य दस्तावेजों का परीक्षण किया गया। इन समूहों में अलग-अलग पदाधिकारी और सदस्य पाए गए। बची चारों दुकानों की जांच एक-दो दिन में पूरी हो जाएगी।

X
Click to listen..