Hindi News »Chhatisgarh »Durg Bhilai» खपरी में अवैध प्लाटिंग के मामले में तीन दलालों पर कोर्ट केस, 209 लोगों को नोटिस देकर मांगा जवाब

खपरी में अवैध प्लाटिंग के मामले में तीन दलालों पर कोर्ट केस, 209 लोगों को नोटिस देकर मांगा जवाब

टाउन एंड कंट्री प्लानिंग विभाग ने अवैध प्लाटिंग करने वाले 209 लोगों को नोटिस जारी करने के बाद कानूनी कार्रवाई शुरू...

Bhaskar News Network | Last Modified - Aug 10, 2018, 03:25 AM IST

खपरी में अवैध प्लाटिंग के मामले में तीन दलालों पर कोर्ट केस, 209 लोगों को नोटिस देकर मांगा जवाब
टाउन एंड कंट्री प्लानिंग विभाग ने अवैध प्लाटिंग करने वाले 209 लोगों को नोटिस जारी करने के बाद कानूनी कार्रवाई शुरू कर दी है। पहली कार्रवाई करते हुए खपरी में अवैध प्लाटिंग करने वाले 3 लोगों के खिलाफ सीजेएम कोर्ट में मामला दायर किया गया है। इस मामले में 8 अक्टूबर को पेशी होगी।

टाउन एंड कंट्री प्लानिंग विभाग ने जिले के अलग-अलग हिस्सों में अवैध प्लाटिंग का रिकॉर्ड तैयार किया है। विभागीय अफसरों ने बताया कि अवैध प्लाटिंग के मामले में नोटिस जारी करने के बाद जवाब मिलने पर विभागीय अफसर जवाब का परीक्षण कर रहे हैं। पटवारी रिकॉर्ड, नक्शा सहित अन्य साक्ष्य जुटाकर कोर्ट में कानूनी कार्रवाई की तैयारी चल रही है। विभागीय अफसरों ने बताया कि साक्ष्य मिलते ही कोर्ट में मामले दायर किए जाएंगे। टाउन एंड कंट्री प्लानिंग विभाग की ओर से कोर्ट में मामला दायर करते हुए एडवोकेट आरपी तिवारी ने बताया कि अवैध प्लाटिंग के तीन अलग-अलग मामलों में सुंदरलाल वगैरह, रामानुज वगैरह और दुखहरण वगैरह के खिलाफ प्रकरण पेश किया गया है। तीनों ने खपरी में अवैध प्लाटिंग की है।

टाउन एंड कंट्री प्लानिंग विभाग ने अवैध प्लाटिंग का रिकॉर्ड तैयार किया

पिछले महीने करहीडीह में अवैध प्लाटिंग पर टाउन कंट्री प्लानिंग विभाग ने रोक लगाई।

दो दशक में 3 सौ करोड़ से ज्यादा का अवैध कारोबार

दुर्ग, भिलाई व आसपास के ग्रामीण इलाकों में दो दशक से अवैध प्लाटिंग हो रही है। दो दर्जन से ज्यादा इलाकों में करीब 3 सौ एकड़ एरिया में टाउन एंड कंट्री प्लानिंग विभाग से अप्रूवल लिए बगैर प्लाटिंग हुई। आउटर इलाकों में प्लाटिंग के बाद गांवों में भी कृषि भूमि पर अवैध प्लाटिंग शुरू हुई। इस दौरान 3 सौ करोड़ रुपए से ज्यादा का कारोबार किया गया।

दो दशक से क्षेत्र मंे हो रही है अवैध प्लाटिंग

राज्य बनने के बाद इस अवैध कारोबार में तेजी आई। टाउन एंड कंट्री प्लानिंग विभाग से लेआउट मंजूरी और डायवर्सन कराए बगैर कृषि भूमि पर अवैध प्लाटिंग हुई। प्लाटिंग करने सड़क, नाली, गार्डन सहित के लिए ओपन लैंड सहित अन्य कार्यों के लिए पर्याप्त जगह छोड़े बगैर सैकड़ों एकड़ एरिया में अवैध प्लाटिंग होती रही। इस दौरान ने इक्का-दुक्का कार्रवाई हुई।

विभाग से इसलिए नहीं लेते लेआउट का अप्रूवल

किसी भी जमीन पर प्लाटिंग करने से पहले टाउन एंड कंट्री प्लानिंग विभाग से लेआउट अप्रूवल लेना जरूरी है। प्लाटिंग एरिया में से करीब 55 प्रतिशत हिस्सा छोड़कर शेष 45 प्रतिशत एरिया पर प्लाट काटा जा सकता है। मुनाफा कमाने के लिए भूमाफिया ने रोड, नाली और ओपनलैंड के लिए 15 से 20 फीसदी एरिया छोड़ बाकी हिस्से पर प्लाटिंग कर दी।

इन इलाकों में हुई अवैध प्लाटिंग

बघेरा, कातुलबोड, कसारीडीह, पुलगांव, उरला, सिकोला, करहीडीह, पोटियाकला, रिसाली, बोरसी, कोहका, जुनवानी, कुम्हारी, भिलाई 3, नेहरू नगर, सिकोला, चरोदा, खम्हरिया, जामुल, अम्लेश्वर, सोमनी (पाटन), सिरसाखुर्द, कुटेलाभाठा, उमदा, अंजोरा, महमरा, पीपरछेड़ी, चिखली, सुरडंग, जेवरा, कोलिहापुरी, सांकरा, कचांदुर, बोरई, नगपुरा, खपरी, बोरसी, जंजगिरी, जरवाय, पाहंदा, सांकरा, उमरपोटी, परसदा, धनोरा।

प्लाट खरीद रहे हैं तो ये सावधानी बरतें

प्लाट खरीदने से पहले टाउन एंड कंट्री प्लानिंग विभाग से पता लगाएं कि जमीन किस प्रयोजन के लिए है। कृषि भूमि या अन्य प्रयोजन की भूमि होने पर मकान बनाने के लिए प्लाट न खरीदें। केवल अावासीय प्रयोजन होने पर ही प्लाट खरीदें। पटवारी से खसरा नंबर बताकर पता करें कि यह जमीन किसके नाम पर है। किसी दूसरे का नाम होने पर वास्तविक भूमि स्वामी से ही जमीन खरीदें। एेसा न करने पर धोखाधड़ी से बच सकते हैं।

तीन के खिलाफ कोर्ट में मामला दायर

शहरी और ग्रामीण इलाकों में अवैध प्लाटिंग का सर्वे कराया गया। 209 लोगों को नोटिस जारी कर जवाब मांगा गया है। बिना लेआउट अप्रूव कराए प्लाटिंग करने वाले लोगों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जा रही है। खपरी में अवैध प्लाटिंग के मामले में तीन लोगों के विरुद्ध कोर्ट में मामला दायर किया गया है। अन्य मामलों का परीक्षण करने के बाद कानूनी कार्रवाई की जाएगी। संदीप बांगड़े, संयुक्त संचालक, टाउन एंड कंट्री प्लानिंग विभाग, दुर्ग

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Durg Bhilai

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×