Hindi News »Chhatisgarh »Durg Bhilai» देश को आजादी दिलाने में आरएसएस या बीजेपी का कहीं कोई योगदान नहीं: वोरा

देश को आजादी दिलाने में आरएसएस या बीजेपी का कहीं कोई योगदान नहीं: वोरा

9 अगस्त को पूरे देश में अंग्रेजों भारत छोड़ो आंदोलन के लिए याद किया जाता है। इसे लेकर शहर जिला कांग्रेस कमेटी की तरफ...

Bhaskar News Network | Last Modified - Aug 10, 2018, 03:25 AM IST

देश को आजादी दिलाने में आरएसएस या बीजेपी का कहीं कोई योगदान नहीं: वोरा
9 अगस्त को पूरे देश में अंग्रेजों भारत छोड़ो आंदोलन के लिए याद किया जाता है। इसे लेकर शहर जिला कांग्रेस कमेटी की तरफ से कांग्रेस भवन में कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इस दौरान विधायक अरुण वोरा ने कार्यकर्ताओं के बीच कहा कि देश की आजादी में न ही किसी आरएसएस कार्यकर्ता का कोई बलिदान रहा, न ही बीजेपी का कोई नेता सामने आया। अंग्रेजों के खिलाफ कांग्रेसी कार्यकर्ता ही खड़ा हुआ, उसने डंडे खाए, बलिदान दिया। उनकी शहादतों को न कभी देश भूला सकता है, न ही संगठन।

वोरा ने कहा कि 9 अगस्त को मुंबई में जिस मैदान से आंदोलन की शुरुआत हुई उसका नाम ही अगस्त क्रांति मैदान पड़ गया। इस आंदोलन की शुरुआत 4 जुलाई 1942 को वर्धा से हुई। 9 अगस्त से अंग्रेजों भारत छोड़ो आंदोलन की शुरुआत हुई। इसके बाद ऐसा जनसैलाब देश में उमड़ा, जिसने देश को आजादी दिलाने के बाद ही दम लिया।

सेक्टर 9 में शहीदों की प्रतिमा के पास श्रद्धांजलि कार्यक्रम में उपस्थित प्रतिनिधि।

9 अगस्त 1942 को भारत छोड़ो आंदोलन हुआ था शुरू

भिलाई। छग राज्य के पूर्व मंत्री व प्रदेश कांग्रेस उपाध्यक्ष बदरुद्दीन कुरैशी ने 76वे क्रांति पर देश आजादी के लिए संघर्ष करते हुए शहीद होने वाले बुजुर्गों काे श्रद्धांजलि दी। कुरैशी ने कहा कि राष्ट्रपिता महात्मा गांधी ने 9 अगस्त 1942 में आजादी के अंतिम जंग का बिगुल फूंका था। आज उसी का परिणाम है कि हम आजादी की खुली हवा में सांस ले रहे हैं। मोती लाल पटेल, तुकाराम पटेल, तुलसी पटेल, अरूण पटेल, मून भाई, बीएल मालवीय, जमील टेलर उपस्थित थे।

सेक्टर-9 में प्रतिमा के पास पहुंचकर दी श्रद्धांजलि

भिलाई। जवाहर अनुसंधान केन्द्र सेक्टर-9 चिकित्सालय में स्थापित शहीदों की प्रतिमा पर दुर्ग शहर विधायक अरूण वोरा के नेतृत्व में शहीदी दिवस मनाया गया। जहां पर दुर्ग-भिलाई के वरिष्ठ कांग्रेसी नेता सीजू एंथोनी, बृजमोहन सिंह, मोहन लाल गुप्ता, राजेश शर्मा, एमएल गौर, कन्हैया चुरहे, हेमन्त बंजारे, अतुल साहू, मंगा सिंह, अंकुश पिल्ले सहित बड़ी संख्या में कार्यकर्ता उपस्थित थे। वोरा ने कहा कि हजारों देशवासियों की शहादत के बाद हमें आजादी मिली है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Durg Bhilai

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×