Hindi News »Chhatisgarh »Durg Bhilai» 45 दिन पुलिस को छकाया दुर्ग में भाई के घर से धराया

45 दिन पुलिस को छकाया दुर्ग में भाई के घर से धराया

भास्कर न्यूज | बालोद/ गुंडरदेही पुलिस को 45 दिन तक छकाने वाला अर्जुन्दा नगर पंचायत अध्यक्ष हरीश चंद्राकर गुरुवार...

Bhaskar News Network | Last Modified - May 18, 2018, 03:25 AM IST

45 दिन पुलिस को छकाया दुर्ग में भाई के घर से धराया
भास्कर न्यूज | बालोद/ गुंडरदेही

पुलिस को 45 दिन तक छकाने वाला अर्जुन्दा नगर पंचायत अध्यक्ष हरीश चंद्राकर गुरुवार को दुर्ग में भाई के घर से पकड़ में आया। उसे शाम पांच बजे गुंडरदेही कोर्ट में पेश करने के बाद देर शाम बालोद जेल में रिमांड पर भेजा गया।

28 मार्च की रात अर्जुन्दा टिकरी की आठ दुकानों में आग लगी थी। जब पुलिस ने जांच किया तो आग लगाने वाले नपं अध्यक्ष निकले। पुष्टि सीसीटीवी फुटेज से हुई। टीआई अवध राम साहू ने बताया दुर्ग में आरोपी के भाई उपेन्द्र चन्द्राकर के घर के आसपास मुखबिर नजर रखे हुए थे।

पार्टी जुटी निष्कासन की तैयारी में :जिला भाजपा महामंत्री केसी पवार ने बताया तीन महीने से हरीश चन्द्राकर द्वारा पार्टी विरोधी काम किया जा रहा था। पार्टी विरोधी काम को देखते हुए दो महीने पहले से मंडल व जिला स्तर पर उसे निष्कासित करने हाई कमान को पत्र भेजा जा चुका है। निष्कासन की प्रक्रिया अभी प्रदेश स्तर पर लंबित है।

बजट के बाद फरार :-घटना के चार दिन बाद नपं अध्यक्ष ने अर्जुन्दा नगर पंचायत का बजट पेश किया। फिर फरार हो गया।

हरीश चंद्राकर

पूर्व में भी विवादों में रहा अध्यक्ष नशे में कहीं भी करता था हुल्लड़

नगर पंचायत अर्जुन्दा के अध्यक्ष हरीश चन्द्राकर पहले भी विवादों में रहे। 30 जनवरी 2017 को शराब के नशे में सरकारी अस्पताल में डाॅक्टरों से अभद्रता के साथ हाजिरी रजिस्टर में छेड़छाड़ की थी। वहीं स्वीपर सोनऊ राम देशमुख को भी तमाचा जड़ दिया था।पीड़ित स्वीपर पर केस वापस लेने के लिए उनके साथी प्रलोभन भी दे रहे थे। स्वास्थ्य विभाग को भी डाॅक्टरों ने रजिस्टर में छेड़खानी करने की शिकायत की थी। पर विभाग के अफसरों ने मामले में राजनीति हावी होने के कारण चुप्पी साध ली। पुलिस पर नेताओं का दबाव रहा।

आग के बाद ही पानी नहीं देने पर नपं अध्यक्ष से मारपीट की थी

28 मार्च बुधवार रात 11.46 से 3 बजे तक जिला मुख्यालय से 31 किलोमीटर दूर अर्जुन्दा के दाऊ चौंक व कारगिल चौक के 8 दुकानों में आग लग गई थी। आग बुझाने को लेकर दो गुटों में विवाद हुआ था। जिसमें नगर पंचायत अध्यक्ष हरीश चंद्राकर व दूसरे पक्ष में उपाध्यक्ष प्रणेश जैन, पूर्व जिला पंचायत सदस्य बृजेश चंद्राकर, वरिष्ठ कांग्रेसी नेता सुरेश गांधी उलझ गए थे। घटना में भीड़ ने अध्यक्ष हरीश चंद्राकर की जमकर पिटाई कर दी थी। घायल अवस्था में उन्हें अस्पताल लाया गया।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Durg Bhilai

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×