Hindi News »Chhatisgarh »Durg Bhilai» मीटर फोटो रीडिंग सिस्टम में गड़बड़ी 1200 से अधिक मामले सामने आए

मीटर फोटो रीडिंग सिस्टम में गड़बड़ी 1200 से अधिक मामले सामने आए

महीने भर बाद ही मीटर फोटो रीडिंग सिस्टम में भारी गड़बड़ी सामने आ रही है। फोटो के आधार पर उपभोक्ताओं को लंबा चौड़ा बिल...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jul 14, 2018, 03:20 AM IST

महीने भर बाद ही मीटर फोटो रीडिंग सिस्टम में भारी गड़बड़ी सामने आ रही है। फोटो के आधार पर उपभोक्ताओं को लंबा चौड़ा बिल थमाया जा रहा है। अब तक जिले भर में 1200 से अधिक मामले सामने आ चुके हैं। बिजली कंपनी के अफसरों की माने तो शिकायत मिलने के तुरंत बाद मामले का निराकरण किया जा रहा है। वास्तविक रीडिंग के हिसाब से स्लैब अनुसार दोबारा बिल तैयार दिया जा रहा है।

जिले के राजनांदगांव, डोंगरगांव, डोंगरगढ़ और खैरागढ़ सभी 4 चारों डिवीजन में मीटर फोटो रीडिंग सिस्टम लागू कर दिया गया है। इस सिस्टम के तहत मीटर का फोटो खींचकर रीडिंग लिया जाता है। दिक्कत ये है कि इस फोटो खींचने पर पुराने बिलिंग का डाटा भी सामने आ जाता है। यूनिट बढ़ जाती है। ग्राम पेंड्री में राजेश साहू के बंद मीटर पर 7 हजार रुपए का बिल दे दिया गया था। इसी तरह चर्तुभूज सिन्हा को 11 हजार रुपए और राधे साहू को 2200 रुपए का बिल थमाया गया था। अफसरों ने दोबारा बिलिंग कर मामले का निराकरण किया।

निराकरण हो रहा है

हां फोटो रीडिंग सिस्टम में कुछ दिक्कतें आई हैं। जिन उपभोक्ताओं का बिल ज्यादा आया है। उनके मीटर का वास्तविक रीडिंग निकालकर स्लैब अनुसार दोबारा बिल तैयार कर दिया जा रहा है। अविनाश सोनेकर, एसई, बिजली कंपनी

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Durg Bhilai

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×