Hindi News »Chhatisgarh »Durg Bhilai» अच्छी सूरत वालों की जरूरत है कहकर 3 टीचर्स को निकाला

अच्छी सूरत वालों की जरूरत है कहकर 3 टीचर्स को निकाला

किसी की सूरत अच्छी न हो और सिर्फ इसीलिए उसे नौकरी से निकाल दिया जाए। आमतौर पर ऐसा वाकया सुनने और देखने कम ही मिलता...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jul 13, 2018, 03:25 AM IST

किसी की सूरत अच्छी न हो और सिर्फ इसीलिए उसे नौकरी से निकाल दिया जाए। आमतौर पर ऐसा वाकया सुनने और देखने कम ही मिलता है। लेकिन एक ऐसी ही घटना जिले के वनांचल ब्लाक मानपुर में सामने आया है। जहां स्कूल प्रबंधन ने तीन आदिवासी युवतियों को सिर्फ इसलिए काम से निकाल दिया कि उनकी सूरत अच्छी नहीं है।

मानपुर के सरस्वती शिशु मंदिर में बीते 7-8 से बतौर शिक्षिका काम कर रही लिकेश्वर रावटे, सरोज जाड़े व चंचल सलामे में इसकी शिकायत कलेक्टर भीम सिंह के साथ की है। कांग्रेस के संभागीय प्रवक्ता कमलजीत सिंह पिंटू के साथ शिकायत करने पहुंची युवतियों ने बताया कि नए शिक्षा सत्र के साथ ही उन्हें स्कूल प्रबंधन ने काम से निकाल दिया है। इसके लिए उन्हें न तो कोई नोटिस दिया गया व न ही कोई पुख्ता कारण की जानकारी दी गई। काम से निकाले जाने के बाद जब उन्होंने प्रबंधन समिति से जानकारी चाही तो समिति सदस्यों ने उन्हें यह कहकर लौटा दिया कि स्कूल में अध्यापन कराने उन्हें अच्छी सूरत वाली शिक्षिका की जरूरत है। युवतियों ने आरोप लगाया है कि इसके अलावा उन्हें आदिवासी होने और नक्सलभेदी टिप्पणी कर भी प्रताड़ित किया गया। तीनों ही युवतियों ने कलेक्टर भीम सिंह से जिम्मेदारों व कार्रवाई व काम पर वापस रखने की मांग की है। मामले को लेकर स्कूल प्रबंधन के जिम्मेदारों से भी संपर्क करने का प्रयास किया गया, लेकिन किसी भी जिम्मेदार का फोन कवरेज एरिया में नहीं था।

इसी खर्च से कर रहे आगे की पढ़ाई: अपनी लिखित शिकायत में युवतियों ने बताया कि वे स्कूल में अध्यापन कार्य के साथ खुद की डीएड की पढ़ाई भी कर रहे हैं। अपनी पढ़ाई का खर्च वे इसी कार्य से वहन करती आ रही है। वर्तमान में उनकी परीक्षाएं भी चल रही हैं लेकिन अचानक ही स्कूल प्रबंधन ने उन्हें काम से निकाल दिया। बीते माह का वेतन भी स्कूल ने नहीं दिया है।

शिक्षिकाओं ने कहा- शिकायत के बाद भी कुछ न होने की धमकी दी

आदिवासी युवतियों ने बताया कि काम से निकाले जाने के बाद प्रबंधन ने मामले की शिकायत कहीं भी कर देने की धमकी दी। समिति अध्यक्ष विकास जैन ने उन्हें एसडीएम से लेकर कलेक्टर तक शिकायत कर देने के बाद भी मामले को सम्हाल लेने की बात कही। युवतियों ने बताया कि उन्हें पढ़ाई छुड़ा देने व आगे कहीं नौकरी नहीं करने देने की भी धमकी प्रबंधन दे रहा है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Durg Bhilai

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×