भिलाई + दुर्ग

  • Hindi News
  • Chhattisgarh
  • Bhilaidurg
  • दो दिन से नहीं खुले नल, टैंकर भी नहीं आए दो वार्ड के लोग परेशान, लगाया चक्काजाम
--Advertisement--

दो दिन से नहीं खुले नल, टैंकर भी नहीं आए दो वार्ड के लोग परेशान, लगाया चक्काजाम

बसंतपुर क्षेत्र के दो वार्ड में पिछले दो दिनों से नलों में पानी नहीं आ रहा। कारण नई टंकी निर्माण से पाइपलाइन...

Dainik Bhaskar

May 17, 2018, 03:35 AM IST
दो दिन से नहीं खुले नल, टैंकर भी नहीं आए दो वार्ड के लोग परेशान, लगाया चक्काजाम
बसंतपुर क्षेत्र के दो वार्ड में पिछले दो दिनों से नलों में पानी नहीं आ रहा। कारण नई टंकी निर्माण से पाइपलाइन विस्तार का काम चल रहा है। इससे हालात यह है कि पानी की सप्लाई वार्ड नंबर 40 और 42 में गड़बड़ा गई है। टैंकर से भी पानी की सप्लाई नहीं हो पा रही है। इससे गुस्साए वार्ड के लोगों ने पार्षद दीपक यादव के नेतृत्व में बुधवार को महामाया चौक में चक्काजाम किया। आधे घंटे तक जाम की स्थिति बनी।

बसंतपुर वार्ड 40 व 42 की महिलाओं ने महामाया चौक में जमकर हंगामा मचाया। कुछ देर के लिए महिलाओं ने चौक से आवाजाही बंद करा दी। इससे जाम हो गया। हालांकि नायब तहसीलदार और निगम के सब इंजीनियर की समझाइश के बाद आक्रोश शांत हुआ। वार्ड पार्षद दीपक यादव के नेतृत्व में जुटे वार्डवासियों का आरोप है कि उनके क्षेत्र में नलों से पानी नहीं आ रहा है। इलाके में नई पाइप लाइन विस्तार का काम चल रहा है, इस वजह से आपूर्ति नहीं हुई।

जमकर हंगामा

राजनांदगांव. बसंतपुर में हंगामा करते हुए वार्डवासी।

जिम्मेदारों का ध्यान नहीं

महिलाओं ने बताया कि नलों से पानी नहीं आने की वजह से लंबी दूरी तय कर दूसरे वार्ड के हिस्से से पानी ला रहे हैं। लेकिन शिकायत के बावजूद जिम्मेदार अफसर ठोस कदम नहीं उठा रहे हैं। भड़की महिलाओं ने करीब आधे घंटे तक चौक में चक्काजाम किए रखा।

30

मिनट तक वार्डवासियों ने आवागमन रोका

5 हजार लोग प्रभावित

बसंतपुर में वार्ड 40 और 42 में पानी की किल्लत से 5 हजार के अधिक लोग प्रभावित है। इसके अलावा सर्किट हाउस इलाके से लगे बस्ती में ही भी यही हाल है। यहां लाइन में फोर्स नहीं होने से ज्यादातर नलों से पानी आना बंद हो चुका है। लेकिन शिकायत के बावजूद टैंकरों से सप्लाई कमजोर है।

05

भागीरथी कनेक्शनों ने भी तोड़ा दम, गुस्साए लोग

नगर निगम ने शहर में 9500 भागीरथी नल कनेक्शन भी दिए हैं। ये कनेक्शन ज्यादातर श्रमिक बाहुल्य वार्डों में है। लेकिन इसमें से 50 फीसदी नल कनेक्शनों ने भी दम तोड़ दिया है, पानी आना पूरी तरह बंद हो चुका है। इसका कारण कनेक्शनों का प्राइवेट कनेक्शन सीधे राइजिंग पाइप लाइन से कनेक्ट नहीं होना है। इसकी वजह से इन नलों में फोर्स नहीं आ पा रहा है। इसके चलते बुधवार को वार्डवासियों ने सड़क पर उतरकर विरोध जताया।

हजार से ज्यादा लोग इसके चलते प्रभावित

टैंकरों से देंगे पानी

मौके पर पहुंचे एसई अतुल चोपड़ा ने वार्डवासियों को आश्वासन दिया है कि उन्हें टैंकर से सप्लाई दी जाएगी। जरूरत के मुताबिक इलाके के सभी प्रभावित क्षेत्र में पानी दिया जाएगा। उन्होंने समझाइश दी कि नई पाइपलाइन के विस्तार की वजह से नलों से सप्लाई प्रभावित हो रही है।

4700

अन्य वार्डों में यही स्थिति

ग्रामीण वार्डों व पटरी पार के हिस्से में भी पानी कि किल्लत बनी हुई है। इन हिस्सों में पाइप लाइन से पानी पर्याप्त फोर्स में नहीं पहुंच पा रहा है। इसके चलते नलों से कुछ देर ही पानी आ पा रहा है। इन हिस्सों के लोग भी टैंकरों के भरोसे ही है। टैंकर नहीं पहुंचने की स्थिति में यहां अफरा-तफरी है।

से ज्यादा भागीरथ नल कनेक्शन ने दिया जवाब

X
दो दिन से नहीं खुले नल, टैंकर भी नहीं आए दो वार्ड के लोग परेशान, लगाया चक्काजाम
Click to listen..