Hindi News »Chhatisgarh »Fharshabhar» इलाज के लिए दूसरी जगह जाने को मजबूर ग्रामीण नहीं खुल रहा पतईबहार का उप स्वास्थ्य केन्द्र

इलाज के लिए दूसरी जगह जाने को मजबूर ग्रामीण नहीं खुल रहा पतईबहार का उप स्वास्थ्य केन्द्र

ग्राम पंचायत भेलवा का आश्रित ग्राम पतईबहार स्थित उपस्वास्थ्य केन्द्र तीन माह से नहीं खुल रहा है। यहां पदस्थ...

Bhaskar News Network | Last Modified - Aug 01, 2018, 02:51 AM IST

इलाज के लिए दूसरी जगह जाने को मजबूर ग्रामीण 
नहीं खुल रहा पतईबहार का उप स्वास्थ्य केन्द्र
ग्राम पंचायत भेलवा का आश्रित ग्राम पतईबहार स्थित उपस्वास्थ्य केन्द्र तीन माह से नहीं खुल रहा है। यहां पदस्थ कर्मी 2-4 दिन में आधा एक घंटा के लिए आते हैं और अस्पताल बंद कर चले जाते हैं। लिहाजा इस क्षेत्र को लोगों को स्वास्थ्य सेवाओं का लाभ नहीं मिल पा रहा है।

पहले इस अस्पताल में एक नर्स पदस्थ थी जो नियमित इसे खोलती थी। चूंकि यह आदिवासी बाहूल गरीब क्षेत्र है। जहां अधिकतर ग्रामीण रोजी मजदूरी कर जीवन यापन करते है। अभी क्षेत्र में कृषि कार्य जोरों पर चल रहा है। इस बीच ग्रामीण बीमार पड़ रहे हैं तो उन्हें उपचार के लिए भटकना पड़ रहा है। -शेष|पेज 16



इलाज के लिए किसान व गरीब ग्रामीणों को काम छोड़कर अन्य गावं के अस्पताल में जाना पड़ता है। जिससे समय एवं रकम दोनों का नुकसान हो रहा है।

भवन भी जर्जर

अस्पताल का यह भवन भवन जर्जर है। साथ ही यहां बिजली पानी की भी कोई व्यवस्था नहीं है। जिससे यह भवन न तो रहने लायक है और न इलाज कराने लायक है। जिससे यह पदस्थ नर्स प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र भेंलवा में सेवा दे रही है।

बंद पड़ा अस्पताल

विभागों को कहा गया है मरम्मत के लिए

भवन का मरम्मत,रंगरोगन एवं बिजली व्यवस्था के लिए पीडब्लुडी विभाग एवं पानी की व्यवस्था के लिए ग्रामीण यांत्रिकी विभाग को कहा गया है। जैसे ही व्यवस्था की जाएगी यहां ियमित सेवा शुरू हो जाएगी। '' सुषमा भगत, बीएमओ, फरसाबहार

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Fharshabhar

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×