• Home
  • Chhattisgarh News
  • Fingeshwar
  • झीरम घाटी कांड : अजीत जोगी पर आरोप का विरोध, पुनिया-बघेल और अमितेश का पुतला जलाया
--Advertisement--

झीरम घाटी कांड : अजीत जोगी पर आरोप का विरोध, पुनिया-बघेल और अमितेश का पुतला जलाया

जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ (जे) के तत्वावधान में बस स्टैंड पर कार्यकर्ताओं ने प्रदेश कांग्रेस प्रभारी पीएल पुनिया,...

Danik Bhaskar | Jul 24, 2018, 02:35 AM IST
जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ (जे) के तत्वावधान में बस स्टैंड पर कार्यकर्ताओं ने प्रदेश कांग्रेस प्रभारी पीएल पुनिया, प्रदेशाध्यक्ष भूपेश बघेल और पूर्व पंचायत मंत्री अमितेश शुक्ल का पुतला दहन किया। ज्ञात हो कि पुनिया ने कुछ दिनों पहले जनता कांग्रेस के संस्थापक अध्यक्ष अजीत जोगी पर झीरम घाटी को लेकर झूठा बेबुनियाद आरोप लगाया था। इसके विरोध में जोगी कार्यकर्ताओं द्वारा पुतला जलाया गया। इसके बाद कांग्रेस के प्रति निंदा प्रस्ताव पारित कर जोगी कांग्रेस को जिताने का संकल्प लिया।

इसके पहले सभा को संबोधित करते हुए जोगी जनता कांग्रेस के राजिम विधानसभा प्रभारी बिसौहा हरित ने कहा कि पुनिया की न तो कोई स्थाई पार्टी है और न ही कोई जनाधार है। सपा, बसपा से दलबदल कर कांग्रेस में आकर छत्तीसगढ़ की शांत पृष्ठभूमि में अनर्गल बातें कहकर सस्ती लोकप्रियता हासिल करने का दिवास्वप्न देख रहे हैं। झीरम घाटी की घटना को लेकर पुनिया आज सीबीआई जांच की बात कर रहे हैं, जबकि जब घटना घटित हुई, उस समय कांग्रेस के मनमोहन सिंह प्रधानमंत्री थे तथा प्रदेश में भाजपा के डॉ. रमन सिंह मुख्य मंत्री। तब पुनिया या कांग्रेस के अन्य नेता सीबीआई जांच कराने की बात क्यों नहीं किए। आज जोगी के जनाधार से घबरा कर मनगढ़ंत आरोप लगा रहे हैं। सभा में मुन्ना कुर्रे, राघोबा महाड़िक, रोहित साहू ने भी संबोधित किया।

पुतला दहन में जिला अल्प संख्यक अध्यक्ष गफूर खान, युवा महासचिव मुन्ना कुर्रे, सरपंच संघ अध्यक्ष रोहित साहू, लक्ष्मण साहू, संतोष साहू, भुनेश्वर निषाद, हरीश साहू, मनोज सोनवानी, रामस्वरूप तिवारी, नारायण सेन, छगन साहू, नेहरू साहू, सागर निषाद,सेवक बंजारे, रमेश गोयल, मिलन धृतलहरे, मिथलेश कोसरे मिलन निराला, सनत चेलक, लोकेश तारक सहित कार्यकर्ता मौजूद थे।

बस स्टेंड परिसर में पुतला फूंकते जोगी कार्यकर्ता व पदाधिकारी।