गरियाबंद

--Advertisement--

कांग्रेस जिलाध्यक्ष साहू समेत 11 लोगों पर धोखाधड़ी का केस

फिंगेश्वर| गरियाबंद जिले से कांग्रेस के नवनिर्वाचित जिलाध्यक्ष व ग्राम बासीन निवासी बैसाखू राम साहू सहित अन्य 11...

Dainik Bhaskar

Aug 09, 2018, 02:35 AM IST
फिंगेश्वर| गरियाबंद जिले से कांग्रेस के नवनिर्वाचित जिलाध्यक्ष व ग्राम बासीन निवासी बैसाखू राम साहू सहित अन्य 11 लोगों के खिलाफ फिंगेश्वर थाने में धोखाधड़ी के मामला दर्ज किया गया है। प्राप्त जानकारी के अनुसार बैसाखू राम साहू पर आरोप है कि उन्होंने 9 हजार 207 लोगों से पैसे दोगुना करने का लालच देकर करीब 1 करोड़ 38 लाख रुपए की ठगी की है। जिसकी शिकायत ठगी का शिकार हुए लोगों ने थाने में की थी।

2008 में सर्वोदय ग्रामीण स्वसहायता समूह के नाम से पंजीकृत संस्था द्वारा फर्जीवाड़ा किए जाने को लेकर समिति के सदस्य शिकायतकर्ता रामलाल साहू ने बताया कि बैसाखूराम साहू ने अपने कुछ साथियों के साथ मिलकर 2008 में सर्वोदय ग्रामीण स्वसहायता समूह बनाया था, जिसमें 1502 रुपए जमा करने पर 5 साल बाद 58000 रुपए देने का दावा किया गया था। लेकिन समयावधि पूरी होने पर समूह में जमा की गई राशि नहीं मिलने से समूह के सदस्यों में काफी आक्रोश है। शिकायतकर्ता ने बताया कि इसी तरह इनके द्वारा 9 हजार 207 लोगों से करीब 1 करोड़ 38 लाख 28 हजार रुपए जमा कराए गए थे, शिकायत के बाद मामले की जांच में सही पाए जाने पर फिंगेश्वर थाने में बैसाखू राम साहू के खिलाफ धारा 420, 34 के तहत अपराध पंजीबद्ध किया गया है।

मामला राजनीति से प्रेरित, विरोधियों की साजिश: बैसाखूराम

वहीं बैसाखूराम साहू ने मामले को राजनीति से प्रेरित बताते हुए विरोधियों की साजिश करार दिया है। उनका कहना है कि वर्तमान में चुनावी साल होने से क्षेत्र में कांग्रेस के पक्ष में माहौल होने से सत्ता पक्ष के लोग बौखलाए हैं। हाल ही में राजिम विधानसभा क्षेत्र में नेता प्रतिपक्ष टी.एस. सिंहदेव का दौरा होने के तत्काल बाद पी.एल. पुनिया सहित कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष भूपेश बघेल दौरे पर रहे। इन दो बड़े कार्यकर्मो से बौखलाए विरोधियों द्वारा छवि को धूमिल कराने एफआईआर की कार्रवाई को अंजाम दिया गया है। साथ ही उन्होंने कहा कि साहू समाज के जिलाध्यक्ष के पद पर रहते हुए प्रदेश के मुखिया द्वारा राजिम में आयोजित प्रदेशस्तरीय भक्त माता कर्मा जयंती में मुख्य अतिथि के आसन्दि से साहू समाज भवन हेतु 1 करोड़ रुपए घोषणा की गई था जो कि आज तक प्रदेश के मुखिया द्वारा पूरी नहीं की गई।

जांच के बाद हुई एफआईआर: थाना प्रभारी

संतोष सिंह थाना प्रभारी फिंगेश्वर ने बताया कि जिला कलेक्टर द्वारा जांच दल गठित कर जांच की कार्रवाई की गई। जांच में सही पाए जाने पर जिला अध्यक्ष बैसाखू राम साहू सहित अन्य 11 लोगों पर एफआईआर की कार्रवाई की गई।

X
Click to listen..