गरियाबंद

--Advertisement--

साढ़े 6 सालों में 9445 कुपोषित बच्चों का हुआ निशुल्क उपचार

गरियाबंद| राज्य शासन के महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा संचालित मुख्यमंत्री बाल संदर्भ योजना के तहत साढ़े 6 सालों...

Dainik Bhaskar

Aug 06, 2018, 02:40 AM IST
गरियाबंद| राज्य शासन के महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा संचालित मुख्यमंत्री बाल संदर्भ योजना के तहत साढ़े 6 सालों में जिले के 9,445 कुपोषित बच्चों का निशुल्क इलाज किया गया।

विभाग की जिला कार्यक्रम अधिकारी जगरानी एक्का ने बताया कि मुख्यमंत्री बाल संदर्भ योजना के तहत वर्ष 2013-14 में 897 बच्चों, वर्ष 2013-14 में 771 बच्चों और वर्ष 2014-15 में 707 बच्चों का निशुल्क उपचार किया गया। वर्ष 2015-16 में 2475 बच्चों, वर्ष 2016-17 में 2013 बच्चों, वर्ष 2017-18 में 2110 बच्चों और वर्ष 2018-19 में अब तक 472 बच्चों का निशुल्क इलाज हुआ है।

जिला कार्यक्रम अधिकारी ने बताया कि इस योजना के अंतर्गत आंगनबाड़ी केंद्रों में दर्ज ऐसे गंभीर कुपोषित एवं संकटग्रस्त बच्चे, जिन्हें कुपोषण निवारण के लिए संक्रमण के इलाज की आवश्यकता हो तो उन्हें लाभान्वित किया जाता है। आंगनबाड़ी कार्यकर्ता द्वारा स्वास्थ्य विभाग के कर्मियों के सहयोग से गंभीर कुपोषित बच्चों को चिह्नांकित किया जाता है।

ऐसे बच्चों के लिए आंगनबाड़ी कार्यकर्ता संदर्भ कार्ड बनाती है, जिसके माध्यम से प्राथमिक और सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में मुफ्त इलाज की सुविधा उपलब्ध कराई जाती है। मुख्यमंत्री बाल संदर्भ योजना में चिह्नांकित गंभीर कुपोषित बच्चों को जिला चिकित्सालय में संचालित पोषण पुनर्वास केंद्र में उपचार के लिए भर्ती भी किया जाता है, ताकि बच्चों के पोषण स्तर में जल्द सुधार हो सके।

मुख्यमंत्री बाल संदर्भ योजना का मिला लाभ

X
Click to listen..