Hindi News »Chhatisgarh »Gariyaband» 15 दिनों के भीतर गोबरा में संचालित होगा आदिवासी बालक आश्रम

15 दिनों के भीतर गोबरा में संचालित होगा आदिवासी बालक आश्रम

मैनपुर| विशेष पिछड़ी जन जाति कमार आदिवासी ग्राम गोबरा में गुरुवार सुबह 10 बजे सहायक आयुक्त एलआर कुर्रे, डीईओ एसएल...

Bhaskar News Network | Last Modified - Aug 03, 2018, 02:41 AM IST

15 दिनों के भीतर गोबरा में संचालित होगा आदिवासी बालक आश्रम
मैनपुर| विशेष पिछड़ी जन जाति कमार आदिवासी ग्राम गोबरा में गुरुवार सुबह 10 बजे सहायक आयुक्त एलआर कुर्रे, डीईओ एसएल ओंगरे, बीईओ डीपी कोयरी ने ग्रामीणों की बैठक ली। बैठक में 15 दिनों के भीतर आदिवासी बालक आश्रम को गोबरा में संचालित करवाने का आश्वासन ग्रामीणों को दिया है।

अधिकारियों ने अपने वायदे के अनुसार गुरूवार सुबह 10 बजे ग्राम गोबरा पहुंचे और वहां पूर्व में संचालित हो रहे आश्रम भवन का निरीक्षण किया। जहां वर्तमान में पेयजल, बिजली व अन्य मूलभूत सुविधाओं की कमी है, जिसे अधिकारियों ने 15 दिनों के भीतर आश्रम भवन की मरम्मत पेयजल व बिजली की सुविधा उपलब्ध कराने के बाद भाठीगढ़ में संचालित हो रहे आश्रम को गोबरा में संचालित करने का आश्वासन दिया।

इस दौरान सहायक आयुक्त कुर्रें और डीईओ ओंगरे ने ग्रामीणों को पूरी तरह आश्वस्त किया कि ग्रामीणों की मांग के अनुसार उनके आश्रम को बड़ेगोबरा में ही संचालित किया जायेगा। इस पूरे मामले की रिपोर्ट गरियाबंद जिले के कलेक्टर को सौंपी जाएगी। इस मौके पर प्रमुख रूप से रेखाबाई ध्रुव, भुपेन्द्र ध्रुव, जाकीर रजा, महनसिंग ध्रुर्वा, मुकुंद कुंजाम, रूपेश कश्यप, दामोदर साय नेगी, धनमोतिन, सिरमोतिन नायक, लखन लाल, बोहरन सिंह, रामरतन सहित बड़ी संख्या में ग्रामीण उपस्थित थे।

मैनपुर. गोबरा में सहायक आयुक्त और डीईओ ने ग्रामीणों से चर्चा कर आश्रम भवन का जायजा लिया।

आश्वासन पर आंदोलन खत्म कराया था

ज्ञात हो कि बुधवार को गोबरा के विशेष पिछड़ी जन जाति आदिवासी कमार जन जाति के सैकड़ों मंहिला पुरूषों ने अपने आश्रम को गोबरा में ले जाने की मांग को लेकर गोबरा से पदयात्रा कर कलेक्टर कार्यालय घेरने के लिए निकले थे, जिन्हें जिले के आला अधिकारियों ने जंगल में रोका था। वहीं आश्रम अधीक्षक वेदप्रकाश पारिक को तत्काल हटाते हुए उनके स्थान पर दामोदर साय नेगी को पदस्थ किया था। वहीं दूसरे दिन ही आश्रम को गोबरा में संचालित करने की बात कही थी।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Gariyaband

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×