--Advertisement--

पहले फूंका पुतला, फिर पत्र लिख माफी मांगी

गरियाबंद| कांग्रेस के एक गुट के कुछ लोगों के इशारे पर 10 कार्यकर्ताओं ने कांग्रेस के वरिष्ठ नेता एवं पूर्व मंत्री...

Danik Bhaskar

Apr 17, 2018, 02:50 AM IST
गरियाबंद| कांग्रेस के एक गुट के कुछ लोगों के इशारे पर 10 कार्यकर्ताओं ने कांग्रेस के वरिष्ठ नेता एवं पूर्व मंत्री अमितेश शुक्ल का पुतला दहन किया था। इसके बाद कार्यकर्ताओं ने अमितेश को पत्र लिखकर माफी मांगी है। पुतला जलाने पर जिला कांग्रेस अध्यक्ष ने इन दस कांग्रेसियों को पार्टी से निष्कासित कर दिया था। हालांकि प्रदेश कमेटी ने इस कार्यवाही को रद्द कर बहाल कर दिया है।

अमितेश शुक्ल को लिखे पत्र में कांग्रेसियों ने कहा है कि वे सभी कुछ लोगों द्वारा भ्रमित व गुमराह करने की वजह से पुतला जलाए थे। इसके लिए सभी खेद प्रकट करते हैं। अमितेश शुक्ला स्वतंत्रता संग्राम में सहायक रहे परिवार के सदस्य के साथ वर्तमान में अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के सदस्य तथा प्रदेश समन्वय समिति के भी सदस्य हैं। श्री शुक्ल के नेतृत्व में कार्य करने के लिए सभी तैयार हैं। सभी कार्यकर्ताओं ने अमितेश शुक्ल से गरियाबंद फारेस्ट विश्राम गृह में भी सौजन्य भेंट कर गिले सिकवे दूर किए। इस दौरान ब्लाॅक कांग्रेस कमेटी सचिव रामकृष्ण ध्रुव, एनएसयूआई विधानसभा अध्यक्ष प्रवीण बाम्बोड़े, अजहर मेमन, अज्जू खान, नरेंद्र श्रीवास्तव, पीलेश्वर सोरी, गोपी यादव, साहिद मेमन उपस्थित थे।

पुतला दहन करने वाले कांग्रेसियों ने पूर्व पंचायत मंत्री शुक्ल से मिलकर दूर किए गिले शिकवे।

Click to listen..