Hindi News »Chhatisgarh »Gariyaband» 3 दिन से स्वास्थ्यकर्मी हड़ताल पर, केंद्रों पर लटके ताले, मरीजों को हो रही समस्या

3 दिन से स्वास्थ्यकर्मी हड़ताल पर, केंद्रों पर लटके ताले, मरीजों को हो रही समस्या

पांच सूत्रीय मांगों को लेकर ग्रामीण स्वास्थ्य संयोजक द्वारा 1 अगस्त से अनिश्चितकालीन हड़ताल की जा रही है। इसके तहत...

Bhaskar News Network | Last Modified - Aug 04, 2018, 02:51 AM IST

3 दिन से स्वास्थ्यकर्मी हड़ताल पर, केंद्रों पर लटके ताले, मरीजों को हो रही समस्या
पांच सूत्रीय मांगों को लेकर ग्रामीण स्वास्थ्य संयोजक द्वारा 1 अगस्त से अनिश्चितकालीन हड़ताल की जा रही है। इसके तहत क्षेत्र के महिला एवं पुरुष स्वास्थ्य संयोजक सहित स्वास्थ्य पर्यवेक्षक एलएचबी खंड विस्तार प्रशिक्षण अधिकारी हड़ताल पर हैं। बारिश के मौसम में बीमारियां बढ़ रही हैं। वहीं उपस्वास्थ्य केन्द्रों में ताला लटका हुआ है जिससे ग्रामीण परेशान हैं।

बारिश में अब उल्टी-दस्त, मलेरिया, डेंगू, सर्दी खांसी ग्रामीण क्षेत्रों में अधिक देखने को मिलती हैं। उनके हड़ताल में जाने से प्रसव संबंधी गर्भवती महिलाओं का टीकाकरण शिशुवती महिलाओं की जांच सहित कृमिनाशक दवाई सर्दी खांसी टीबी मरीजों की दवाई खून जांच सहित विभिन्न शासकीय सेवाएं ठप हैं। 6 अगस्त को राष्ट्रीय कार्यक्रम मिजल्स रूबेला का टीकाकरण अभियान होना है जिसमें 9 से 15 वर्ष के बच्चों का टीकाकरण किया जाना है ऐसे में कर्मचारियों का हड़ताल में जाना गंभीर विषय है।

उप स्वास्थ्य केंद्रों में लगा है ताला।

ग्रेड पे 2800 किए जाने की मांग की जा रही

जिला अध्यक्ष डीके पढौती सहित पदाधिकारियों ने बताया कि बीते 17 जुलाई को एक दिवसीय सांकेतिक हड़ताल के बाद जब कोई हल नहीं निकला जिसमें प्रदेश सरकार को 31 जुलाई तक समय दिया गया था, लेकिन ध्यान नहीं दिया गया। 1 अप्रैल 2006 से व्याप्त वेतन विसंगति दूर करते हुए विभाग द्वारा प्रस्तावित 5200-20, 200 ग्रेड पे 2800 किए जाने की मांग की जा रही है। वहीं ग्रामीण स्वास्थ्य संयोजकों के पद को तकनीकी पद घोषित व पदोन्नति सूची प्रति वर्ष जारी करने सहित कई मांगें हैं। गरियाबंद जिले में 224 उप स्वास्थ्य केन्द्र हैं, इसमें महिला एवं पुरूष स्वास्थ्य संयोजक 362 हैं।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Gariyaband

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×