--Advertisement--

अब सभी स्कूलों को बांटे जाएंगे यू-डाइस कोड

भास्कर न्यूज | जांजगीर-चांपा जिले में संचालित सभी शासकीय एवं निजी विद्यालय, अनुदान प्राप्त विद्यालय, केन्द्रीय...

Danik Bhaskar | Mar 02, 2018, 02:35 AM IST
भास्कर न्यूज | जांजगीर-चांपा

जिले में संचालित सभी शासकीय एवं निजी विद्यालय, अनुदान प्राप्त विद्यालय, केन्द्रीय विद्यालय, मदरसा और संस्कृत विद्यालयों से मूलभूत जानकारी एकत्रित किया जाना है। इन जानकारियों में अधोसंरचना एवं दर्ज संख्या तथा महत्वपूर्ण जानकारियां शामिल हैं। यू-डाइस के आंकड़ा संकलन प्रपत्रों का वितरण संकुल के माध्यम से विद्यालयों को किया जाना है। इसलिए सत्र 2017-18 के लिए यू-डाइस कोड बांटे जाएंगे।

राजीव गांधी शिक्षा मिशन के जिला मिशन समन्वयक के अनुसार विद्यालयों द्वारा आंकड़ा प्रपत्र भरे जाने के बाद उसकी प्रविष्टि का कार्य खंड स्त्रोत समन्वयक कार्यालय में किया जाएगा। ऐसे विद्यालय जिन्हें अपनी संस्था का यू-डाइस कोड न लिया हो या ऐसे विद्यालय जो अब तक अपनी संस्था के लिए यू-डाइस में आंकड़े उपलब्ध नहीं कराते रहे हैं वे जिला परियोजना कार्यालय राजीव गांधी शिक्षा मिशन जांजगीर में अपने विद्यालय का यू-डाइस कोड ले लेंगे। इन्हीं आंकड़ोें के आधार पर वार्षिक कार्य योजना का निर्माण, शैक्षणिक सूचकांकों का निर्धारण एवं विद्यालयों को विभिन्न प्रकार की सुविधाएं छात्रवृत्ति, गणवेश, पाठ्यपुस्तक आदि उपलब्ध कराई जाती है। सभी शालाओं के द्वारा अपना यू डाइस फार्म अनिवार्यतः भरा जाए।

शाला कोष वेबपोर्टल के अपलोड हो रहे आंकड़े

छत्तीसगढ़ शासन स्कूल शिक्षा विभाग द्वारा शासकीय विद्यालयों में अध्ययनरत विद्यार्थियों के नाम, कक्षा, जाति आदि महत्वपूर्ण आंकड़ों का संकलन शाला कोष वेबपोर्टल के माध्यम से किया जा रहा है। इसके लिए विकासखण्ड स्तर पर प्रत्येक विद्यालय द्वारा अपने विद्यालय के बालकॉन से विद्यार्थियों की कक्षावार जानकारी का मिलान किया जाना है, इस संबंध में सभी शासकीय विद्यालयों को सूचित किया गया है कि वे बीईओ कार्यालय से समन्वय स्थापित कर अपने विद्यालय में अध्ययनरत सभी विद्यार्थियों के आंकड़े को शाला कोष पोर्टल वेब पोर्टल में दर्ज, अद्यतन, संशोधन और सत्यापन कराएंगे।