• Home
  • Chhattisgarh News
  • Janjgeer News
  • बाइपास कर चुरा रहे थे बिजली, विजिलेंस टीम ने पकड़ा, 1. 84 लाख किया जुर्माना
--Advertisement--

बाइपास कर चुरा रहे थे बिजली, विजिलेंस टीम ने पकड़ा, 1. 84 लाख किया जुर्माना

भास्कर न्यूज | जांजगीर-चांपा जिला मुख्यालय जांजगीर अंतर्गत नैला जोन में रायपुर और बिलासपुर जिले की विजिलेंस...

Danik Bhaskar | Mar 02, 2018, 02:40 AM IST
भास्कर न्यूज | जांजगीर-चांपा

जिला मुख्यालय जांजगीर अंतर्गत नैला जोन में रायपुर और बिलासपुर जिले की विजिलेंस टीम ने दो दिन छापामार कार्रवाई की। इस दौरान विजिलेंस टीम ने 4 उपभोक्ताओं को मीटर से पहले बायपास बिजली चोरी करते पकड़ा। बिजली चोरी करने वालों को पेनाल्टी लगाई गई है। विजिलेंस टीम ने 1 लाख 84 हजार का जुर्माना लगाया है।

एई आरके काैशिक ने बताया विजिलेंस टीम ने बिजली चोरी के प्रकरण में जांजगीर में महेंद्र जायसवाल पर 98 हजार, त्रिलोक अग्रवाल नैला पर 1 लाख 8 हजार, रमेश अग्रवाल नैला पर 52 हजार 640 रुपए और पुरानी बस्ती जांजगीर में रामधन देवांगन पर 15 हजार रुपए का जुर्माना किया। इसी तरह फरवरी माह भर में 45 उपभोक्ताओं का बिजली कनेक्शन काटा गया। इन पर 15 लाख 37 हजार रुपए बकाया था, जिसके बाद 35 उपभोक्ताओं ने 7 लाख 7 हजार का भुगतान किया। नैला जोन अंतर्गत 12 हजार 4 सौ से अधिक बिजली उपभोक्ता है। इनमें से करीब साढ़े हजार उपभोक्ताओं पर बिजली बिल का 3 करोड़ 40 लाख रुपए से अधिक का है। बकाया वसूली करने लाइन काटने की कार्रवाई की जा रही है। फरवरी महीने में 45 उपभोक्ताओं के बिजली कनेक्शन की कार्रवाई बिजली विभाग द्वारा की गई। औसतन एक महीने में 1 करोड़ 38 लाख रुपए की बिजली विभाग को खरीदनी पड़ रही है। इसके एवज में 1 करोड़ 10 लाख की ही बिलिंग हो रही है। बाकी बिजली लाइन लास जा रही है।

बिजली चोरी के टॉप पांच मामले में जांजगीर-चांपा

प्रदेश के 15 सर्किल में बिजली चोरी के मामले में टॉप पांच जिले में जांजगीर-चांपा जिला भी शामिल हैं। बिजली कंपनी की सतर्कता टीम (विजिलेंस) द्वारा की वित्तीय वर्ष 2016-17 में की गई कार्रवाई में की रिपोर्ट में यह खुलासा हुआ है। जांजगीर-चांपा सर्किल में सालभर में 398 बिजली चोरी के प्रकरण बनाए गए। वहीं मीटर में अनियमितता के 593 मामले टीम ने बनाए। हुकिंग के बजाए मीटर में छेड़खानी की ज्यादा प्रकरण बने हैं। जिले में हर महीने 36.6 प्रतिशत बिजली लॉइनलास में जा रही है। यानी बिजली विभाग को हर महीने करीब 8 करोड़ का नुकसान हो रहा है। जांच में बिजली फेस से सप्लाई दिए जाने वाले करंट की बाईपास, करंट को मीटर से पहले ज्वाइंट से बाइपास कट कर चोरी करने के मामले अधिक मिले।

भास्कर न्यूज | जांजगीर-चांपा

जिला मुख्यालय जांजगीर अंतर्गत नैला जोन में रायपुर और बिलासपुर जिले की विजिलेंस टीम ने दो दिन छापामार कार्रवाई की। इस दौरान विजिलेंस टीम ने 4 उपभोक्ताओं को मीटर से पहले बायपास बिजली चोरी करते पकड़ा। बिजली चोरी करने वालों को पेनाल्टी लगाई गई है। विजिलेंस टीम ने 1 लाख 84 हजार का जुर्माना लगाया है।

एई आरके काैशिक ने बताया विजिलेंस टीम ने बिजली चोरी के प्रकरण में जांजगीर में महेंद्र जायसवाल पर 98 हजार, त्रिलोक अग्रवाल नैला पर 1 लाख 8 हजार, रमेश अग्रवाल नैला पर 52 हजार 640 रुपए और पुरानी बस्ती जांजगीर में रामधन देवांगन पर 15 हजार रुपए का जुर्माना किया। इसी तरह फरवरी माह भर में 45 उपभोक्ताओं का बिजली कनेक्शन काटा गया। इन पर 15 लाख 37 हजार रुपए बकाया था, जिसके बाद 35 उपभोक्ताओं ने 7 लाख 7 हजार का भुगतान किया। नैला जोन अंतर्गत 12 हजार 4 सौ से अधिक बिजली उपभोक्ता है। इनमें से करीब साढ़े हजार उपभोक्ताओं पर बिजली बिल का 3 करोड़ 40 लाख रुपए से अधिक का है। बकाया वसूली करने लाइन काटने की कार्रवाई की जा रही है। फरवरी महीने में 45 उपभोक्ताओं के बिजली कनेक्शन की कार्रवाई बिजली विभाग द्वारा की गई। औसतन एक महीने में 1 करोड़ 38 लाख रुपए की बिजली विभाग को खरीदनी पड़ रही है। इसके एवज में 1 करोड़ 10 लाख की ही बिलिंग हो रही है। बाकी बिजली लाइन लास जा रही है।