• Home
  • Chhattisgarh News
  • Jashpuranagar News
  • महाविद्यालय- विश्वविद्यालयों में अब पढ़ाया जाएगा स्वच्छता का पाठ
--Advertisement--

महाविद्यालय- विश्वविद्यालयों में अब पढ़ाया जाएगा स्वच्छता का पाठ

जशपुरनगर| राज्य के सभी कॉलेज-विश्वविद्यालयों में स्वच्छ भारत अभियान पाठ अनिवार्य तौर पर पढ़ाया जाएगा।...

Danik Bhaskar | Apr 02, 2018, 02:40 AM IST
जशपुरनगर| राज्य के सभी कॉलेज-विश्वविद्यालयों में स्वच्छ भारत अभियान पाठ अनिवार्य तौर पर पढ़ाया जाएगा। विश्वविद्यालय अनुदान आयोग यूजीसी की अनुशंसा के बाद राजकीय विश्वविद्यालयों के कुलपति और कुलसचिवों ने इस पर सहमति दी है। राज्य की समन्वय समिति के सामने सभी विवि पाठ्यक्रम का प्रस्ताव लाएंगे। यूजीसी ने सभी विश्वविद्यालयों और कॉलेजों से कहा है कि वे केंद्र सरकार के महत्वाकांक्षी स्वच्छ भारत अभियान में भागीदारी पर छात्रों को शैक्षणिक क्रेडिट की पेशकश करने पर विचार करें।

15 दिन की इंटर्नशिप पर क्रेडिट अंक

विश्वविद्यालयों की कार्ययोजना है कि स्वच्छ भारत अभियान को पाठ्यक्रम में जोड़ने से बुनियादी स्तर पर युवाओं में स्वच्छता के प्रति जागरूकता बनेगी। इससे स्वच्छ भारत का निर्माण हो सकेगा। पाठ्यक्रम के अलावा जो विद्यार्थी 15 दिनों (100 घंटे) की ग्रीष्मकालीन इंटर्नशिप करेगा, उसे दो क्रेडिट अंक मिलेंगे। इससे उसका परिणाम प्रतिशत भी सुधरेगा।

समिति ने की है अनुशंसा

राज्य की समन्वय समिति ने भी स्वच्छता पर पाठ पढ़ाने की अनुशंसा की है। इसका एक घंटे का पीरियड होगा, जिसमें चार बिंदुओं स्वच्छ तनिष्क , स्वच्छ शरीर, स्वच्छ पर्यावरण और स्वच्छ सोसायटी पर लेक्चर दिए जाएंगे। इस पर आंतरिक मूल्यांकन के अलावा प्रदर्शनी, संगोष्ठियां, सेमिनार भी होंगे। ग्रीष्मकालीन इंटर्नशिप में विद्यार्थियों को क्रेडिट अंक के अवसर मिलेंगे। शहर के छात्र गांवों या झुग्गियों में समग्र साफ- सफाई में सिर्फ हिस्सेदारी ही नहीं करेंगे, बल्कि इस अभियान के तहत साफ सफाई बनाए रखने की व्यवस्था बनाने में भी मदद करेंगे।