जिसके नाम पर अकाउंट, उसे ही बैंक जाकर जमा करने होंगे पैसे, चेक की तरह जमा पर्ची पर हुए सिग्नेचर का करेंगे मिलान

Jashpuranagar News - आरबीआई से आदेश आने के बाद बैंक अब डिपॉजिट मशीन के सॉफ्टवेयर भी कर रहे अपग्रेड ज्यादातर बैंकों ने शुरू किया...

Jul 14, 2019, 07:00 AM IST
आरबीआई से आदेश आने के बाद बैंक अब डिपॉजिट मशीन के सॉफ्टवेयर भी कर रहे अपग्रेड

ज्यादातर बैंकों ने शुरू किया आधार और पैन नंबर मांगना।

भास्कर न्यूज| रायगढ़/ जशपुरनगर

रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया के नए नियमों के तहत अब कोई भी व्यक्ति किसी दूसरे के खाते में बिना उसकी मंजूरी के खाते में रकम जमा नहीं कर पाएगा।

दूसरों के खातों में रकम जमा करने के लिए बैंकों ने अब लोगों से आधार और पैन नंबर मांगना शुरू कर दिया है। शहर के अधिकतर बैंकों में चेक की तरह जमा पर्ची में किए गए हस्ताक्षर की भी जांच शुरू की गई है। जब हस्ताक्षरों का मिलान नहीं हो रहा है, वहां बैंक भी जमा रकम स्वीकार नहीं कर रहे हैं। खाते से रकम निकालने के लिए कई तरह की बंदिशें हैं, लेकिन खाते में रकम जमा करवाने के लिए कोई ठोस नियम नहीं था। कोई भी व्यक्ति किसी के भी खाते में अपनी मर्जी से रकम जमा करवा देता था। इससे ब्लैक मनी आसानी से लोगों के खातों में डिवाइड होकर बंट जाती थी। कई बार खाताधारक को भी रकम जमा होने की जानकारी नहीं होती थी। इसलिए आरबीआई ने यह नया नियम लागू कर दिया है। राजधानी के सभी बैंकों में यह नियम लागू हो गया है, लेकिन लोगों को अभी इसकी जानकारी पूरी तरह से नहीं होने की वजह से सख्ती नहीं की जा रही है। लोगों को बताया जा रहा है कि वे दूसरे के खातों में रकम जमा करवाना चाहते हैं तो जमा पर्ची में उनके हस्ताक्षर करवा लें। ऐसा नहीं करते हैं तो उनके पैन या आधार नंबर अनिवार्य तौर पर लिखना होगा। बैंक अफसरों की माने तो जल्द ही ऐसी जमा पर्चियां भी प्रिंट कराई जाएंगी जो दूसरे खातों में रकम जमा कराने के लिए होगी। इसमें खाताधारी का पैन, आधार और मोबाइल नंबर लिखना होगा। मोबाइल नंबर भी वही मान्य होगा जो उनके खाते से लिंक होगा।

मशीनों का सर्वर मुख्यालय से जुड़ा इसलिए देरी

स्टेट बैंक और कई बैंकों की कैश डिपॉजिट मशीनों को भी अपग्रेड करने का काम शुरू कर दिया गया है। अभी पूरी तरह से सॉफ्टवेयर नहीं बदलने की वजह से लोग इसमें किसी भी खाते नंबर पर रकम डिपॉजिट कर पा रहे हैं। अफसरों का कहना है कि मशीनों में लगे सॉफ्टवेयर को इस महीने तक अपग्रेड कर लिया जाएगा। इन मशीनों का सर्वर मुख्यालय से जुड़े रहने की वजह से इसमें समय लग रहा है। सभी मशीनें एक साथ अपग्रेड हो जाएंगी। इसके बाद कैश डिपॉजिट मशीनों से भी रकम जमा करने के पहले आधार या पैन नंबर दर्ज करना अनिवार्य हो जाएगा।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना