--Advertisement--

नरहरदेव स्कूल में फर्नीचर की कमी बरकरार

जिले के सबसे बड़े नरहरदेव स्कूल में फर्नीचर की समस्या है। शिक्षा सत्र बीतने को है लेकिन फर्नीचर की समस्या का...

Danik Bhaskar | Mar 02, 2018, 02:40 AM IST
जिले के सबसे बड़े नरहरदेव स्कूल में फर्नीचर की समस्या है। शिक्षा सत्र बीतने को है लेकिन फर्नीचर की समस्या का निराकरण नहीं हो पाया।

प्रबंधन के अनुसार स्कूल में 100 टेबल-कुर्सी सेट की जरूरत है। अभी स्कूल में 350 टेबल-कुर्सी सेट हैं। इनमें से 50 टेबल-कुर्सी टूट चुके हैं। इन टूटे फर्नीचरों का उपयोग नहीं हो पा रहा है। इसी स्कूल में बोर्ड के साथ व्यापमं की परीक्षाएं होती हैं। फर्नीचर की कमी से परीक्षाओं के दौरान बेहद परेशानी होती है। दूसरे स्कूल से यहां परीक्षा के दौरान फर्नीचर मंगाना पड़ता है। लाने ले जाने की प्रक्रिया में दूसरे स्कूलों के फर्नीचर भी टूट जाते हैं। मार्च से होने वाली बोर्ड परीक्षा में 10वीं में 295 तो 12वीं में 228 परीक्षार्थी शामिल हो रहे हैं। गोविंदपुर भारती स्कूल में भी फर्नीचर की स्थिति अच्छी नहीं है। यहां बोर्ड परीक्षार्थियों की संख्या सिर्फ 101 है इस कारण स्कूल प्रबंधन को उतनी समस्या नहीं होती। नरहरदेव स्कूल प्राचार्य सरोज वर्मा ने कहा स्कूल में फर्नीचर की कमी है। 100 फर्नीचर मिल जाएं तो काफी सुविधा होगी।