Hindi News »Chhatisgarh »Kanker» एक दिन पहले ही खेली सूखी होली, शिक्षकों ने दिया पानी बचाने का संदेश

एक दिन पहले ही खेली सूखी होली, शिक्षकों ने दिया पानी बचाने का संदेश

2 मार्च को होली पर्व है लेकिन एक दिन पहले ही शहर होली के मूड में आ गया। स्कूल-कालेजों में छात्रों तथा शिक्षकों ने...

Bhaskar News Network | Last Modified - Mar 02, 2018, 02:40 AM IST

एक दिन पहले ही खेली सूखी होली, शिक्षकों ने दिया पानी बचाने का संदेश
2 मार्च को होली पर्व है लेकिन एक दिन पहले ही शहर होली के मूड में आ गया। स्कूल-कालेजों में छात्रों तथा शिक्षकों ने पानी बचाने का संदेश देते सूखी होली खेली। 2 मार्च को भी परिवार व दोस्तों के साथ सूखी होली खेलने का निर्णय लिया। होली को लेकर बाजार में काफी रौनक रही।

पर्व के एक दिन पहले ही शिक्षण संस्थानों में सूखी होली खेली गई। महिला आईटीआई में छात्राओं व शिक्षकीय स्टाफ ने एक दूसरे को गुलाल लगा सूखी होली खेली। छात्रा मोनिका वट्टी, सुचित्रा लकड़ा, मधु नाग, सुलोचना कोड़ोपी, संगीता गोटा, योगिता शोरी, दीपिका सलाम, रोशनी नाग, सेवती, तनुजा लाठिया ने कहा होली के दिन भी सूखी होली परिवार के साथ खेलेंगे। प्राचार्य एसके धु्रव, एआर नाथ, पी लाल, एल ठाकुर, पी भुआर्य, एनआर नेताम, सुरभि ने कहा सूखी होली से पानी की बचत के साथ त्वचा भी सुरक्षित रहती है।

आंख व त्वचा से बचाए : जिला अस्पताल के सिविल सर्जन डा आरसी ठाकुर ने कहा होली खेलते समय केमिकल वाले रंगोंं का उपयोग नहीं करना चाहिए। पुरा ध्यान रखना चाहिए की रंग, गुलाल आंखों में ना जाए। आंखों में रंग पड़ना खतरनाक हो सकता है। रंग खेलने के बाद आंखों में किसी प्रकार की तकलीफ हो तो तत्काल डाक्टरों से संपर्क करें। डा लोकेश देव ने कहा सूखी होली हर्बल रंगों से खेलना चाहिए। केमिकल युक्त रंगो से शरीर की त्वचा को बचाकर रखना चाहिए।

तिलक होली खेलने दिया संदेश

ग्राम पटौद प्राथमिक शाला में शाला प्रबंधन समिति, ग्राम पंचायत ने पानी बचत करते तिलक होली खेलने का संदेश दिया। बच्चों ने भी तिलक होली खेलने के निर्णय का स्वागत किया। शाला प्रबंधन समिति अध्यक्ष राकेश नायक ने कहा रंगों में कई प्रकार की मिलावट आ रही है। केमिकल रंगों का त्वचा, आंखों तथा बालों पर विपरीत प्रभाव पड़ता है। इसलिए तिलक होली खेलना चाहिए। जनपद सदस्य आसाराम नेताम, सरपंच कुमार मरकाम ने कहा तिलक होली खेलने से पानी की भी बचत होगी। संकुल समन्वयक नितेश उपाध्याय ने कहा बच्चों को कहा गया है की वे राह चलते लोगों को जबरन नहीं रोकेंगे। इस अवसर पर प्रधानाध्यापक अराधना शर्मा, राकेश नेताम, पुनीता मंडावी, शांति दुबे, अनीता सलाम, खेमो बाई जैन उपस्थित थे।

कांकेर। महिला आईटीआई में सूखी होली खेलती छात्राएं।

रसोइया संघ ने किया होलिका दहन

मानदेय बढ़ाने की मांग को लेकर हड़ताल कर रहे रसोईया संघ ने होलिका दहन पर्व धरना स्थल में मनाया। शाम 7 बजे होलिका दहन किया। लकड़ी की कमी के कारण पैरा जलाकर ही होलिका दहन किया। दोपहर से धरनास्थल पर होली का रंग जमने लगा था। महिला पुरूषों ने होली पर्व पर गीत प्रस्तुत किए और जमकर झूमे। संघ से जुड़ी गीता, नीता बढ़ई, किसनी भंडारी, सेवनतीन कांगे, थान बाई, प्रभा निषाद ने कहा होली पर्व धरनास्थल पर ही धूमधाम से मनाते एकजुट रहने का संदेश दिया गया।

एटीएम में लगी रही भीड़

होली के एक दिन पहले एटीएम में पैसा निकालने भारी भीड़ उमड़ी। शहर के प्राय: एटीएम में पैसा निकालने भीड़ लगी रही। एसबीआई मुख्य शाखा में तीन एटीएम हैं जिसमें से मात्र एक में पैसे निकल रहे थे जबकि दो में पैसा थे ही नहीं। भारतीय स्टेट बैंक मुख्य शाखा के एटीएम में सुबह से शाम तक भीड़ लगी रही। भीड़ होने के कारण गोपनीयता का ध्यान नहीं रख एटीएम में एक साथ कई लोग घुस गए।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Kanker News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: एक दिन पहले ही खेली सूखी होली, शिक्षकों ने दिया पानी बचाने का संदेश
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Kanker

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×