कांकेर

  • Hindi News
  • Chhattisgarh News
  • Kanker News
  • बैठक के नाम हर महीने की पहली तारीख को काम बंद कराने का विरोध किया गया
--Advertisement--

बैठक के नाम हर महीने की पहली तारीख को काम बंद कराने का विरोध किया गया

हर महीने की 1 तारीख को मजदूर यूनियन नेता बैठक के नाम काम बंद कराते हैं। इसका राजमिस्त्री, ठेकेदार यूनियन के साथ...

Dainik Bhaskar

Mar 01, 2018, 03:00 AM IST
बैठक के नाम हर महीने की पहली तारीख को काम बंद कराने का विरोध किया गया
हर महीने की 1 तारीख को मजदूर यूनियन नेता बैठक के नाम काम बंद कराते हैं। इसका राजमिस्त्री, ठेकेदार यूनियन के साथ मजदूरों ने विरोध किया है। राजमिस्त्री, ठेकेदार यूनियन की शिकायत है कि उनका काम इससे प्रभावित होता है। मजदूरों का भी मानना है उनकी एक दिन की मजदूरी प्रभावित होती है। बैठक का बहाना कर काम बंद कराने के विरोध में राजमिस्त्री, ठेकेदार यूनियन व मजदूरो ने कांकेर थाना पहुंच शिकायत भी की।

28 फरवरी को राजमिस्त्री ठेकेदार यूनियन तथा मजदूरों कांकेर थाना पहुंच मजदूर यूनियन अध्यक्ष बालमुकुंद पटेल व रमेश नेताम के खिलाफ लिखित शिकायत दर्ज कराते कहा दोनों अपनी मनमानी चला रहे हैं। मजदूर यूनियन के नियमों को राजमिस्त्री, रेजा, कुली सभी पर थोप रहे हैं। बैठक के नाम प्रतिमाह 1 तारीख को काम बंद कराते हैं। इससे मजदूर तथा कुली सहमत नहीं हैं।

शिकायत करने पहुंचे मजदूरों ने कहा वे गरीब हैं तथा काम बंद कराने से उनकी एक दिन की मजदूरी प्रभावित होती है। काम बंद नहीं करने पर दोनो मजदूर नेता भवन निर्माण सामग्री जबरन उठा कर ले जाते हैं। राजमिस्त्री, ठेकेदार यूनियन ने कहा इससे उनका एक दिन का काम प्रभावित होता है। रेजा, राजमिस्त्री, ठेकेदार यूनियन अध्यक्ष अखिल सोलंकी, उपाध्यक्ष दिलीप नाग, ठेकेदार अविनाश साकरकर, नागेश सिंह, श्रवण मंडावी, दिलीप नाग, दशरू यादव ने कहा हर रविवार काम बंद रखा जाता है फिर हर माह 1 तारीख को काम बंद कराने का कोई औचित्य नहीं है। हर माह 1 तारीख को काम बंद करवाने से कोई फायदा नही है। इससे काफी काम प्रभावित होता है। शिकायत करने पहुंचे पुष्पा नेताम, मुन्नी यादव, जानकी पटेल, पुष्पा नेताम, पदमा यादव, सावरिया चक्रधारी ने कहा जबरन काम बंद करवाना गलत है।

कांकेर। मजदूर नेताओं के खिलाफ शिकायत करने पहुंचे राजमिस्त्री, ठेकेदार यूनियन पदाधिकारी और मजदूर।

श्रम विभाग में भी शिकायत की

मजदूर यूनियन के दोनो नेताओं के खिलाफ शिकायत करने श्रम विभाग कार्यालय भी पहुंचे। श्रम विभाग ने शिकायत लेने से मना कर करते कहा यह उनके अधिकार क्षेत्र में नहीं आता। शिकायत कांकेर थाना में पुलिस में करें।

X
बैठक के नाम हर महीने की पहली तारीख को काम बंद कराने का विरोध किया गया
Click to listen..