पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Kanker News Chhattisgarh News 132 Naxalites Worth Rs 66 Crores Hidden In The Rocks Of Kanker

कांकेर के बीहड़ों में छिपे हैं 6.6 करोड़ रुपए के 132 नक्सली

एक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
अनुकूल मौसम को देखते पुलिस जिले में नक्सलियों के सफाए के लिए मुहिम छेड़ चुकी है। गृह विभाग और जिला पुलिस द्वारा जारी सूची के अनुसार आज की स्थिति में कांकेर जिले के जंगल में 6.68 करोड़ के कुल 132 कुख्यात इनामी नक्सली मौजूद हैं। जिसमें सबसे अधिक उत्तर बस्तर डिविजन प्रभारी कमलेश पर 25 लाख का इनाम घोषित है। इसके नीचे काम करने वाली तीन एरिया कमेटी है। जिसमें सभी का प्रभार महिला नक्सलियों को दिया गया है। जिले में मौजूद कुल नक्सलियों में भी महिला नक्सलियों की ही तादाद अधिक है।

मई-जून में जंगल में विजिबिलिटी बढ़ने से पुलिस ने नक्सलियों के खिलाफ विशेष अभियान छेड़ रखा है। जवान जंगलों में रहते ऑपरेशन चला रहे हैं। चार दिनों में आलपरस मुठभेड़ के बाद पुलिस को 8 लाख रुपए की महिला इनामी नक्सली को पकड़ने में कामयाबी मिली है। साथ ही 1 लाख की इनामी महिला नक्सली ने भी आत्मसमर्पण किया है। जिले में उत्तर बस्तर डिविजन से लेकर एलओएस तक के कुल 132 नक्सली मौजूद हैं। जिनके खिलाफ उनके कैडर के अनुसार इनाम घोषित है। डिविजन कमेटी से शीर्ष के नेता जिले की सूची में शामिल नहीं है। जिले की सूची में उत्तर बस्तर डिविजन कमेटी प्रभारी कमलेश उर्फ राम कृष्णा आकरे 50 साल निवासी विजयवाड़ा पर सबसे ज्यादा 25 लाख का इनाम घोषित है।

पहली बार जानिए.... कांकेर जिले में कितने इनामी नक्सली संगठन में सक्रिय हैं

नक्सलियों की कमेटी.... उत्तर बस्तर डिवीजन प्रभारी के नीचे काम करती हैं तीन एरिया कमेटी

ये हैं उन नक्सलियों की तस्वीरें... जिन पर है 8 से 25 लाख तक का इनाम

उत्तर बस्तर डिविजन प्रभारी कमलेश।

तीनों एरिया कमेटी प्रभारी महिला है

जिले में तीन एरिया कमेटी रावघाट, किसकोड़ो और परतापुर काम कर रही हैं। जिसमें सभी की प्रभारी महिलाएं हैं जिनकी उम्र 35 से 50 के बीच है। जिसमें रावघाट एरिया कमेटी की प्रभारी राजे कांगे उर्फ मालती उर्फ निर्मला निवासी कसई फरसगांव, परतापुर कमेटी की प्रभारी ललित पद्दा निवासी भामरागढ़ और किसकोड़ो एरिया कमेटी की प्रभारी सरिता उर्फ अरूण, अरूणक्का निवासी नालगोंडा आंध्रपदेश है। इन सभी पर आठ-आठ लाख के इनाम हैं।

जिले में 9 एलओएस इनमें भी महिलाओं की संख्या अधिक

जिले में तीन एरिया कमेटियों के अंतर्गत कुल 9 एलओएस (लोकल ऑर्गेनाइजेशन स्क्वायड) काम रही हैं। रावघाट एरिया कमेटी अंतर्गत पानीडोबिर और चारगांव, परतापुर एरिया कमेटी अंतर्गत मेढकी, बड़गांव, काकनार और प्लाटून नंबर 5, किसकोड़ो एरिया कमेटी अंतर्गत किसकोड़ो, बुधियारमारी, कुएमारी, अंतागढ़ एलओएस काम कर रही है। जिसमें पानीडोबिर एलओएस प्रभारी मीना नेताम उर्फ मनकी निवासी लाटमरका, बड़गांव एलओएस प्रभारी दर्शनपद्दा नारायणपुर का नाम कई घटनाओं में शामिल है। जिनके खिलाफ 5-5 लाख रुपए इनाम घोषित है।

कमलेश है सबसे अधिक 25 लाख का इनामी

3 एरिया कमेटी की कमान महिलाओं के हाथ

मिलिट्री कंपनी नं.5 का कमांडर राजू सलाम।

रावघाट एरिया कमेटी प्रभारी राजे कांगे।

कमलेश को लंबे समय से तलाश रही पुलिस लेकिन पकड़ से बाहर

कमलेश जिले में सभी एरिया कमेटी, प्लाटून कंपनी, एलओएस को ऑपरेट करने के साथ बड़े हमलों में शामिल होता है। पुलिस इसकी लंबे समय से तलाश कर रही है लेकिन यह पकड़ से बाहर है। इसके बाद मिलिट्री कंपनी नंबर 5 का कमांडर राजू सलाम 37 वर्ष निवासी मरदा कांकेर के खिलाफ 10 लाख का इनाम घोषित किया गया है। जिले में प्लाटून नंबर 28 भी काम कर रही है। जिसका प्रभारी प्रभाकर उर्फ रवि आंध्रप्रदेश है। इसका प्रमुख काम नक्सली सामग्री सप्लाई करना है। इसका साथ सुरेश देता है। टीम में 6 लोग शामिल हैं।

परतापुर एरिया कमेटी प्रभारी ललिता।

संख्या कम हुई तो कोरर एरिया कमेटी भंग

कोरर एरिया कमेटी में नक्सलियों की संख्या कम होने से कमेटी भंग हो गई है। इसके सदस्य किसकोड़ो एरिया कमेटी व कुएमारी एलोएस के साथ मिलकर काम कर रहे हैं। पुलिस के अनुसार लगातार अभियान चलाने से जिले में नक्सलियों की संख्या अब काफी कम हो गई है। ग्रामीण भी अब नक्सलियों के साथ नहीं जाना चाहते हैं। जिससे उनकी संख्या घटती जा रही है। पिछले दो साल से नक्सली जिले में नई भर्ती भी नहीं कर पाए हैं।

किसकोड़ो एरिया कमेटी प्रभारी सरिता।

आत्मसमर्पण करने पर मिलेगा पुनर्वास नीति का लाभ: एसपी

कांकेर एसपी केएल ध्रुव ने कहा पुलिस की कार्रवाई से जिले में नक्सलियों की संख्या घटी है। जिले में सौ से अधिक इनामी नक्सली है। जिनके कैडर के अनुसार उनके खिलाफ इनाम घोषित किया गया है। नक्सली चाहे तो वे आत्मसमर्पण कर मुख्यधारा में जुड़ सकते हैं। इसके लिए वे किसी भी थाना, कैंप या सीधे एसपी से संपर्क कर सकते हैं। उन्हें राज्य शासन के पुनर्वास नीति का लाभ दिया जाएगा। यदि कोई इन नक्सलियों की गिरफ्तारी या फिर सरेंडर कराता है तो उसे भी उचित इनाम दिया जाएगा। इन लोगों के नाम पता गोपनीय रखने के साथ ही सुरक्षा भी दी जाएगी।

प्लाटून 28 का प्रभारी प्रभाकर उर्फ रवि।

जानिए... जिले में 1 लाख से लेकर 25 लाख तक के हैं इतने इनामी नक्सली

25 लाख का एक इनामी नक्सली: कमलेश।

10 लाख का एक इनामी नक्सली: राजू सलाम।

राजे कांगे उर्फ मालती, ललिता, हीरालाल कोमरा, सरिता उर्फ अरूणा, सोनू कुरेटी, प्रभाकर उर्फ रवि, सुरेश, फागू मड़ियाम, रैजू सलाम, कैलाश, लोकेश हेमला, लिंगू बेड़दा, मंगली, जानकी, सीतो, मोनिका, जतिन, राजे, संगीता, कुमे, लिंगे, सुंदरी, सोनू कुमार, सोमा, देवे, लच्छी, निलेश, भीमा, ज्योति, दारसू शोरी, सुरेश, रीता मड़ियाम, किशोर, स्वरूपा, मोटू, शांति, रीता, संदीप, देवा, सोमारी, बत्ती, मासा, विजो, रामबत्ती, रीना, जूगनू कोवाची, बांसती, चांदनी, जोगी, मंजू, कमला, प्रदीप, रनीता तथा बदरू।

नंदनी उर्फ आगासा, रम्मो नुरेटी, मुकेश गावड़े, मीना नेताम, मैनू नेगी, दर्शन पद्दा, चंदर कतलाम, शांता मरकाम, रूपी रेड्डी, मंगलू पद्दा, माली, रामसाय मरापी, अनिता, मंगलू पद्दा, लखमू कवाची, मानू दुज्गा, दीपक कवाची, गुड्डू, सोनारू, बिजनू मरकाम, रमेश हुपेंडी, रीना नरेटी, तीजूउर्फ सोमा, समिता कोरसा और प्रसाद ताड़मी।

रामसाय मरापी, भीमा तथा नागशे उर्फ ठुग्गे।

महेश, उर्मिला मड़ियामी, बदरू, जानकी, रूखमी, उंगी, इतवारीन पद्दा, ज्योति पोटाई, रंजीता उर्फ रामबाई ध्रुवा, मनीषा, मोती, मनोज हेमला।

रमशीला पोटाई, जग्गू गोटा, सुक्कु उसेंडी, पद्मा नेगी, उर्मिला गावड़े, फुलबत्ती, सुनील, कमलू, प्रमीला, रजीता राव, मंगो, रंजीता कुमारी, सुखलाल, शंकर, देवेे, सुक्की मरकाम, जुगनी कवाची, बुधराम कौड़ो, सनकी बाई, नीतू बेड़दा, कमला पद्दा, सनोती, मनकी पद्दा, सोमे, सुरजन्न उर्फ सुजना, श्यामबत्ती, दशरी उर्फ समीता कोरसा, अंजू शोरी, अनिल, जयसिंग कोमरा, रामसिंह, रित राम, अखिलेश हुर्रा, बिजनू मरकाम।

8 लाख के 55 इनामी नक्सली

5 लाख के 25 इनामी नक्सली

3 लाख के 3 इनामी नक्सली

2 लाख के 12 इनामी नक्सली

1 लाख के 35 इनामी नक्सली

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- अगर आप कुछ समय से स्थान परिवर्तन की योजना बना रहे हैं या किसी प्रॉपर्टी से संबंधित कार्य करने से पहले उस पर दोबारा विचार विमर्श कर लें। आपको अवश्य ही सफलता प्राप्त होगी। संतान की तरफ से भी को...

और पढ़ें