• Hindi News
  • Chhatisgarh
  • Kanker
  • Bhanupratappur News chhattisgarh news 32 people in mullah and 31 from kanchi did blood donation talk everything initiative

मुल्ला में 32 और केंवटी में 31 जवानों ने किया रक्तदान, बोले- सभी करें पहल

Kanker News - भास्कर न्यूज | भानुप्रतापपुर विश्व रक्तदान दिवस के मौके पर बीएसएफ कैंप मुल्ला 82 बटालियन में शिविर का आयोजन किया...

Bhaskar News Network

Jun 15, 2019, 06:35 AM IST
Bhanupratappur News - chhattisgarh news 32 people in mullah and 31 from kanchi did blood donation talk everything initiative
भास्कर न्यूज | भानुप्रतापपुर

विश्व रक्तदान दिवस के मौके पर बीएसएफ कैंप मुल्ला 82 बटालियन में शिविर का आयोजन किया गया। इस दौरान 32 जवानों ने रक्तदान किया। सबसे पहले कमांडेंट अमरिक सिंह ने रक्तदान किया। रक्तदान के लिए स्वास्थ्य विभाग ने ‘रक्त नालियों में नहीं नाड़ियों में बहना चाहिए’ का नारा दिया। कमांडेंट सिंह ने कहा रक्तदान जीवनदान है। हम सभी को रक्तदान करना चाहिए।

विश्व रक्तदान दिवस के मौके पर यह शिविर का आयोजन किया है, जिसमें जवानों ने आगे आकर रक्तदान किया। इस कार्य से किसी की जान बच सकती है, इससे बड़ा कोई दान नहीं हो सकता। जिला अस्पताल के डॉ. एमके मरकाम ने कहा कुछ लोगों में आज भी भ्रांतियां है कि रक्तदान करने से शरीर में खून कम हो जाता है। जबकि ऐसा नहीं है। रक्तदान करने के बाद शरीर में फिर से रक्त बन जाता है। हर तीन माह में रक्तदान कर सकते हैं। इसके लिए खुद के साथ साथ लोगों को भी इसके लिए जागरूक करें, इससे कई जिदंगी बच जाएगी। इस मौके पर बीएसएफ के डॉ. अतुल गुप्ता, सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के बीएमओ डॉ. अनिल पशीने, डॉ. दिलीप सतपथी, टेक्निशियन पीई करविला, भोलाराम साहू, विषम सिन्हा, बीएसएफ के जवान, अधिकारी आदि उपस्थित थे

केंवटी में एसएसबी के 31 जवानों ने भी किया रक्तदान :सशस्त्र सीमा बल 33वीं वाहिनी केंवटी के कमांडेंट डॉ. केडी सिंह के साथ 31 जवानों ने भी एसएसबी केंप केंवटी में आयोजित रक्तदान शिविर में रक्तदान किया। शिविर में ब्लड बैंक गौतम अस्पताल भानुप्रतापपुर के प्रभारी डॉ. अनिल गौतम और सभी कर्मचारी भी उपस्थित रहे।

भानुप्रतापपुर। बीएसएफ जवानों ने किया रक्तदान।

िजला अस्पताल में 18 ने किया रक्तदान

कांकेर| 14 जून को विश्व रक्तदान दिवस के अवसर पर जिला अस्पताल में शिविर का आयोजन किया गया। सुबह 9 बजे शुरू हुए शिविर में शाम 6 बजे तक कुल 18 लोगों ने स्वेच्छा से पहुंचकर रक्तदान किया। 18 में से 13 का रक्त तत्काल जरूरतमंद मरीजों को दिया गया जबकि 5 का रक्त स्टोर किया गया।

कांकेर शहर में बहुत सी समाजसेवी संस्थाएं हैं जो रक्तदान को लेकर कार्यक्रम चलाती है लेकिन रक्तदान दिवस पर मात्र मैदाने जंग संस्था के सदस्यों ने ही पहुंचकर रक्तदान किया। नगर सेना की महिला सैनिक 27 वर्षीय दीपिका जैन ने रक्तदान किया। दीपिका ने कहा गत वर्ष भी रक्तदान दिवस पर रक्तदान किया था तथा इस बार भी पहुंच रक्तदान किया। इस दौरान एक बार और वह एक जरूरतमंद को रक्त दे चुकी है। दीपिका ने कहा हर साल दो बार रक्तदान करने का निर्णय लिया है। माहुरबंदपारा निवासी राकेश जैन 28 वर्ष ने बताया वे 2010 से रक्तदान कर रहे हैं और अभी तक 11 बार रक्तदान कर चुके हैं। रक्तदान करने से दूसरों को नया जीवन मिलता है। विद्युत विभाग के जेई रूपेंद्र साहू ने भी रक्तदान किया। मैदाने जंग से जुड़े खेमनारायण शर्मा, स्वाति यादव, टेकेश पाल, आयुषि मिश्रा व विरेंद्र यादव ने पहुंच रक्तदाताओं का हौसला बढ़ाया।

प्रचार प्रसार की कमी या गर्मी का प्रभार

रक्तदान करने को लेकर प्रचार प्रसार की कमी दिखी। इस खास दिवस पर शहर में कोई जागरूकता रैली भी नहीं निकाली गई। यही कारण है अपेक्षाकृत बेहद कम लोग रक्तदान करने पहुंचे। लैब टेक्नीशियन रेखा नेताम ने कहा तेज गर्मी की वजह से रक्तदान करने कम लोग पहुंचे।

X
Bhanupratappur News - chhattisgarh news 32 people in mullah and 31 from kanchi did blood donation talk everything initiative
COMMENT