• Hindi News
  • Chhatisgarh
  • Kanker
  • Kanker News chhattisgarh news coarse paper and red cloth found on the road panic spread that people did not go forward

सड़क पर मिले कोरे कागज व लाल कपड़े दहशत एेसी फैली कि आगे नहीं गए लोग

Kanker News - अंतागढ़-नारायणपुर मार्ग पर बुधवार सुबह सड़क पर पत्थर रखकर उसमें कागजों को दबा दिया गया। पत्थर व पर्चे हूबहू...

Bhaskar News Network

Feb 14, 2019, 02:42 AM IST
Kanker News - chhattisgarh news coarse paper and red cloth found on the road panic spread that people did not go forward
अंतागढ़-नारायणपुर मार्ग पर बुधवार सुबह सड़क पर पत्थर रखकर उसमें कागजों को दबा दिया गया। पत्थर व पर्चे हूबहू नक्सलियों के तर्ज पर सड़क पर रखे गए थे। नक्सली बैनर जैसा लाल कपड़ा भी वन विभाग के मुनारा में रखा गया था। इससे वहां एेसी दहशत फैली की मार्ग से गुजर रहे लोग उसे हटाने की हिम्मत तक जुटा नहीं पाए। कुछ तो अपने वाहनों को यू-टर्न कर लौट गए तो कुछ सड़क के किनारे से गाड़ी लेकर जैसे तैसे आगे बढ़े।

मार्ग अवरुद्ध और सड़क पर पत्थर रखे होने की सूचना मिलते ही पुलिस ने मौके पर पहुंच कागज जब्त किया। वहां मिले कागजों और लाल कपड़ों में कुछ लिखा नहीं था। इससे इसे शरारती तत्वों की करतूत मानी जा रही है, लेकिन लोगों में दहशत फैलाने की कोशिश व राहगीरों को परेशान करने के कारण पुलिस ने अब इसे लेकर अपनी जांच पड़ताल आगे बढ़ा दी है। 13 फरवरी की सुबह नारायणपुर मार्ग में अंतागढ़ से 8 किमी दूर तारलकट्टा के निकट कुछ लोगों ने पर्चे जैसा कोरा कागज सड़क के बीचों-बीच रखकर उसे पत्थर से दबा दिया। एेसे कई कागज व पत्थर रखकर सड़क को जाम कर दिया गया। कुछ कागज सड़क किनारे बने वन विभाग के मुनारा में भी चस्पा कर दिया। मुनारा में एक लाल कपड़ा भी रख दिया। जिससे आने वाले उसे नक्सली पर्चा समझने लगे। कुछ इसके नीचे विस्फोटक होने के डर से उसके करीब ही नहीं गए। नक्सल संवेदनशील इलाका होने के कारण लोगों में इसकी दहशत फैल गई। लोगों में अधिकांश लोग वाहन सड़क किनारे पगडंडी से निकालकर आगे बढ़े। कुछ बड़े वाहन जो वहां से पार नहीं हो सकते थे वे लौट गए, लेकिन किसी ने रुककर पर्चे व अन्य चीजों को देखने हिम्मत नहीं जुटाई।

बम होने के डर से लोग दूर से ही लौट गए, पहले भी ऐसी हरकत की जा चुकी है

अंतागढ़। नारायणपुर मार्ग में कागज व पत्थर रख सड़क को किया जाम।

इधर, रामपुर जंगल में पुलिस ने नष्ट किया नक्सली स्मारक

कांकेर| पंखाजुर से पुलिस, एसटीएफ और डीईएफ की संयुक्त टीम नक्सली गश्त पर परतापुर और सिकसोड़ क्षेत्र की ओर रवाना हुई थी। गश्ती दल को रामपुर के जंगल में नक्सलियों द्वारा अपने मृत साथी विनोद की याद में बनाया गया 5 फीट ऊंचा स्मारक मिला। स्मारक लकड़ी का बना था जिसे पुलिस ने नष्ट कर दिया। एसपी केएल ध्रुव ने बताया पुलिस की टीमें लगातार नक्सली क्षेत्र में गश्त कर रही है जिससे क्षेत्र में नक्सली पीछे हो रहे हैं और नक्सली गतिविधियों में अंकुश लग रहा है। गश्ती दल में नरेश सलाम, ढालूदास मानिकपुरी, भुवन सिंग, हेमेंद्र यदु, हेमंत साहू आदि शामिल थे।

इसके पूर्व भी इसी तरह नक्सलियों की तर्ज पर असमाजिक तत्व दहशत फैलाने की कोशिश कर चुके हैं। कुछ साल पहले बर्रेबेड़ा में रास्ते पर लाल कपड़ा रख दिया गया था। उसके नीचे कुछ रखा हुआ था जिसे लोग बम समझते रहे। सूचना पर पूरे तामझाम के साथ पुलिस मौके पर पहुंची। जब कपड़े को हटाया गया तो वहां एक बांस की टोकरी मिली। बोंदानार में भी इलेक्ट्रिक केबल लगाकर लाल कपड़ा रख दिया गया था।

घटनास्थल से डेढ़ किमी दूर है एसएसबी कैंप

घटनास्थल से महज डेढ़ किमी दूरी पर बीनापाल गांव में एसएसबी कैंप है। इसके बावजूद अज्ञात लोगों ने यहां एेसी हरकत कर लोगों को परेशानी में डाल दिया। इन शरारती तत्वों की हरकत की भनक तक कैंप के जवानों को नहीं लगी जो उसके सूचना तंत्र पर सवाल खड़ा कर रहा है।

ये शरारती तत्वों का काम: अंतागढ़ थाना प्रभारी

अंतागढ़ थाना प्रभारी शरद दुबे ने बताया कि कागज व कपड़ा जब्त कर लिया गया है। उसमें कुछ भी नहीं लिखा गया है। यह किसी शरारती तत्वों का काम है जो नक्सलियों के नाम पर दहशत फैलाने का काम कर रहे हैं। इसकी जांच की जा रही है।

Kanker News - chhattisgarh news coarse paper and red cloth found on the road panic spread that people did not go forward
X
Kanker News - chhattisgarh news coarse paper and red cloth found on the road panic spread that people did not go forward
Kanker News - chhattisgarh news coarse paper and red cloth found on the road panic spread that people did not go forward
COMMENT