तालाब गहरा कराने पंचायत ने पानी करा दिया खाली, लेकिन 6 माह में भी नहीं मिली स्वीकृति

Bhaskar News Network

Jun 14, 2019, 07:05 AM IST

Kanker News - कोकपुर में ग्राम पंचायत ने एक तालाब को गहरा और सफाई कराने वहां का पानी जनवरी में खाली करा दिया था लेकिन अभी तक सफाई...

Kanker News - chhattisgarh news the panchayat has given water to deepen the pond but not received even in 6 months
कोकपुर में ग्राम पंचायत ने एक तालाब को गहरा और सफाई कराने वहां का पानी जनवरी में खाली करा दिया था लेकिन अभी तक सफाई कार्य शुरू नहीं कराया है। इस तालाब में साल के बारहों महीने पानी रहता था तथा पूरे गांव के लोग इसी तालाब में निस्तारी आदि करते थे। पंचायत द्वारा तालाब खाली करा दिए जाने को लेकर ग्रामीणों में नाराजगी है। वहीं उपसरपंच का कहना है कि ढ़ाई साल से प्रयास किया जा रहा है लेकिन इसके लिए स्वीकृति नहीं मिल पाई है जबकि प्रक्रिया पूरी हो चुकी है।

ग्राम कोकपुर के मुख्यमार्ग पर एक निजी तालाब है जो रियासतकाल का बना है और इसका उपयोग पूरा गांव करता है। तालाब में साल के बारहों महीने न केवल पानी भरा रहता था बल्कि कमल के फूल तालाब को सुंदर बनाते हैं। ग्राम पंचायत ने इस वर्ष जनवरी में गहरीकरण और सफाई कराने के लिए खाली करा दिया था। लेकिन 6 महीने होने को आए पंचायत ने अब तक तालाब गहरीकरण और सफाई कार्य नहीं कराया है। पिछले कुछ वर्षों से इस तालाब में देखरेख के अभाव में पुराईन पत्ता, सिंघोला व कचरा फेंकने से काफी ज्यादा गंदगी हो गई थी। साथ ही तालाब में पहाड़ी से आने वाले मिट्टी व मलबा के कारण भी तालाब काफी ज्यादा पट गया है। इसके चलते तालाब के गहरीकरण की जरूरत हुई। जून में ही बारिश शुरू हो जाएगी जिसके बाद गहरीकरण तथा सफाई कार्य नहीं हो पाएगा।

कांकेर। कोकपुर का तालाब जिसे पंचायत ने करा दिया है खाली।

प्रक्रिया पूरी लेकिन नहीं मिल पाई स्वीकृति: उपसरपंच

कोकपुर उपसरपंच जगदीश सोनी ने कहा तालाब गहरीकरण व सफाई के लिए ढ़ाई वर्षों से प्रयास किया जा रहा है। निजी तालाब होने के चलते तालाब स्वामी से स्वीकृति पत्र भी लिया गया है। अन्य प्रकिया भी पूरी कर जनपद और जिला पंचायत में जमा की जा चुकी है लेकिन अभी तक गहरीकरण व सफाई के लिए स्वीकृति नहीं मिल पाई है।

X
Kanker News - chhattisgarh news the panchayat has given water to deepen the pond but not received even in 6 months
COMMENT