Hindi News »Chhatisgarh »Kanker» पुलिस से कहा- पत्नी, बच्चों का हो गया अपहरण, दूसरे दिन महिला थाने पहुंची

पुलिस से कहा- पत्नी, बच्चों का हो गया अपहरण, दूसरे दिन महिला थाने पहुंची

पिछले 24 घंटे से शहर की एक महिला व उसके नाबालिग बच्चों के अपहरण की चल रही खबर सोमवार को प|ी के थाना पहुंचने के बाद खत्म...

Bhaskar News Network | Last Modified - May 01, 2018, 03:05 AM IST

पिछले 24 घंटे से शहर की एक महिला व उसके नाबालिग बच्चों के अपहरण की चल रही खबर सोमवार को प|ी के थाना पहुंचने के बाद खत्म हो गई। पूरा मामला पारिवारिक ड्रामा निकला। इसमें पति प|ी के बीच आए तीसरे व्यक्ति की भूमिका भी शामिल थी जो प|ी को थाना छोड़ वहां से चला गया। पुलिस ने पति प|ी के इस विवाद के निराकरण के लिए उन्हें कोर्ट में जाने फैमाईश नालिश काट कर दे दिया।

थाना से निकलने के बाद पति घर लौट गया और प|ी बच्चों के साथ सखी वूमन सेंटर चली गई। आमापारा निवासी हनीफ रंगरेज ने 29 अप्रैल को पुलिस में शिकायत दर्ज कराई थी कि उसकी प|ी अपने मायके ओडिशा गई हुई थी। वहां से 28 अप्रैल की सुबह शीतलापारा कांकेर निवासी संजय मरकाम उसकी प|ी व नाबालिग बच्चों को अपने साथ ले गया है। हनीफ ने इसमें अपहरण होने की आशंका भी जताई थी। इसके बाद पूरा परिवार महिला व बच्चों से संपर्क करता रहा लेकिन मोबाइल बंद आते रहे। जब-जब प्रार्थी हनीफ के पुत्र से संपर्क हुआ तो वे स्वयं को अंबिकापुर, रायपुर, धमतरी, सराईपाली में होना बताते रहे। इसके बाद यह मोबाइल भी बंद हो गया। महिला की खोजबीन के दौरान ही जानकारी हुई महिला बरदेभाटा में उक्त युवक संजय मरकाम के साथ उसके परिचित के घर है। इधर खोजबीन की जानकारी मिलने पर महिला संजय मरकम व अपने बच्चों के साथ थाना पहुंच गई। संजय मरकाम महिला को थाना छोड़ वहां से चला गया। पुलिस ने पति प|ी की दोनों की बात सुनी। इसके बाद दोनों को न्यायालय की शरण में जाने कहा।

परिजनों ने महिला पर लगाए गंभीर आरोप

महिला जब थाना के बाहर आई तो उसके परिजनों ने वहां उसे घेर लिया। वहीं उस पर तरह तरह के आरोप लगा दोनों बच्चों को साथ चलने कहते रहे। परिजनों ने यहां तक कहा कि उसके व संजय के बीच नाजायज रिश्ते हैं। उससे शादी करने के लिए वह उसके साथ गई थी। बच्चों को भी बिगाड़ रही है।

मामला पति-प|ी के बीच के विवाद का

एसआई संदीप बंजारे ने कहा मामला पति प|ी के बीच के विवाद का है। प|ी पति से तलाक चाहती है। इसका फैसला कोर्ट में ही होगा। इसलिए दोनों को फैना काट कोर्ट के शरण में जाने कहा गया है।

संजय करता है मेरी मदद

महिला ने कहा मैं अपनी मर्जी से उसके साथ गई थी। मैने ही उसे ले जाने कार लेकर बुलाया था। उसका पति काम धाम नहीं करता है। वह संजय से पूर्व परिचित है। वक्त जरूरत में संजय उसकी मदद करता है। मेरा संजय से ऐसा कोई रिश्ता नहीं है। अब वह पति के साथ नहीं जाना चाहती।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Kanker

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×