प्रॉपर्टी बिकने पर हिस्सा नहीं मिला तो बेटी ने घर में ही करवा दी चोरी

Kawardha News - पंडरिया थाना क्षेत्र के ग्राम कांपादाह में कमलेश साहू के घर हुई 15.33 लाख रुपए चोरी के मामले में 7 आरोपी गिरफ्तार हुए...

Bhaskar News Network

Feb 14, 2019, 02:46 AM IST
Kawardha News - chhattisgarh news if the property is not sold on the sale then the daughter has committed the house only
पंडरिया थाना क्षेत्र के ग्राम कांपादाह में कमलेश साहू के घर हुई 15.33 लाख रुपए चोरी के मामले में 7 आरोपी गिरफ्तार हुए हैं। चोरी की मास्टर माइंड आरोपी खुद प्रार्थी की छोटी बहन आशा उर्फ ठगिया बाई (25) है, जो रुपए न मिलने पर पिता और भाई से नाराज थी। उसी ने चोरी की साजिश रची।

घटना के 4 दिन पहले 10 जनवरी को भांजे कार्तिक साहू (28) निवासी गोंड खाम्ही थाना लोरमी (मुंगेली) को चाय पीने के बहाने पिता का घर दिखाया। बोलीं कि पिता ने जमीन बेचकर आलमारी में रुपए रखे हैं, उसे कैसे भी करके ले आओ। 14 जनवरी को जब उसके पिता मालिक राम और उसकी मां इलाज के लिए बिलासपुर गए। उसी रात मौका पाकर आरोपी कार्तिक ने कांशीराम (33), रामदयाल (30), रामचंद गोंड (30) तीनों निवासी ग्राम मुनमुना थाना कुकदूर और सरोसा साहू (33) व देवचंद साहू (35) ग्राम धनियाडोली थाना लोरमी (मुंगेली) के साथ मिलकर चोरी की वारदात को अंजाम दिया। चोरी 14 जनवरी की रात को हुई। सभी आरोपी बोलेरो गाड़ी क्रमांक सीजी 10 एफ 7516 में रात 1 बजे गांव पहुंचे थे।

मास्टरमाइंड आशा

खुलासा: 7 को प्लान में शामिल किया

कवर्धा. पुलिस गिरफ्त में सभी आरोपी व चोरी के रुपए जब्त।

दो बाइक खरीदी, शराब और जुआ में उड़ाया पैसा

चोरी के रकम आरोपियों ने आपस में बांट लिया था। मास्टर माइंड आशा ने 5 लाख रुपए रखे थे। आरोपी कार्तिक और कांशीराम ने 1.27 लाख रुपए में नई बाइक खरीद ली थी। एक साथ ढेर सारा पैसा पाकर बाकी आरोपियों ने शराब व जुआ में खर्च करना शुरू कर दिया। पकड़े जाने पर आरोपियों के पास से 9 लाख बरामद हुए। सभी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है।

रुपए नहीं मिलने पर नाराज रहने लगी थी आशा

चोरी की मास्टर माइंड आशा उर्फ ठगिया बाई का ससुराल गोंड खाम्ही थाना लोरमी (मुंगली) में है। उसका पति दिव्यांग है। पकड़े जाने पर आशा ने बताया कि उसके पिता मालिक राम ने गांव की जमीन को 20 लाख रुपए बेचा था। पिता ने कहा कि था कि जमीन बेचने पर जो रकम मिलेगी, उसमें से 1.50 लाख रुपए उसे देगा, लेकिन नहीं दिया। इस पर वह नाराज रहने लगी। अब वह पूरा पैसा हड़पना चाहती थी, इसलिए उसने साजिश में अपने भांजे कार्तिक को भी शामिल कर लिया।

कार्तिक के ठाठ देख पुलिस को शक हुआ

टीआई भरत बरेठ बताते हैं कि वारदात में घरवाले के मिला होने का शक पहले से ही था। इसलिए गांव में उनकी रेकी कराई जा रही थी। इस बीच आरोपी कार्तिक के ठाठ देखकर पुलिस का शक गहराने लगा। मिस्त्री का काम करने वाला कार्तिक जिसके पास साइकिल तक नहीं थर, वह अचानक नई मोटर साइकिल पर घूम रहा था। रेकी पर बाकी आरोपियाें के नाम सामने आए।

पिता ने लाकर दी साड़ी बोला; ऐसा क्यूं किया

बेटी आशा के जेल जाने से पहले उसके पिता मालिक राम उससे मिलने पहुंचा। शुरू में वह काफी गुस्से में था। पुलिस से कहा कि साहब इसे फांसी पर चढ़ा दो। फिर कुछ देर बाद गुस्सा ठंडा हुआ। बेटी को जेल जाते देख वह उदास हो उठा। पसीजे मन से उसने कहा कि बेटी ऐसा क्यों किया। अपनी जिंदगी बर्बाद कर ली और मेरा घर भी बर्बाद कर दिया। काफी देर तक वह बेटी को समझाते रहा। उसके बाद पुलिस जब आशा को जेल ले जाने लगी, तो पिता ने उसके लिए साड़ी, ब्रश, मंजन लाकर दिया। खुद को तसल्ली देते हुए कहा कि नसीब में लिखा था, तो क्या कर सकते हैं। खैर जैसा करी है, वैसा भुगतेगी कह प्रायश्चित करने को कहा।

मालिकराम साहू

9 लाख बरामद किए


Kawardha News - chhattisgarh news if the property is not sold on the sale then the daughter has committed the house only
Kawardha News - chhattisgarh news if the property is not sold on the sale then the daughter has committed the house only
X
Kawardha News - chhattisgarh news if the property is not sold on the sale then the daughter has committed the house only
Kawardha News - chhattisgarh news if the property is not sold on the sale then the daughter has committed the house only
Kawardha News - chhattisgarh news if the property is not sold on the sale then the daughter has committed the house only
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना