Hindi News »Chhatisgarh »Kawardha» 36 लाख का हिसाब नहीं पूछ सकें तो बैठकें लेना ही बंद की

36 लाख का हिसाब नहीं पूछ सकें तो बैठकें लेना ही बंद की

पंडरिया ब्लॉक के ग्राम पंचायत दामापुर बाजार में वर्ष 2015-16 का आम बाजार और मवेशी बाजार ठेका 36 लाख रुपए में दिया गया था।...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jun 24, 2018, 02:30 AM IST

पंडरिया ब्लॉक के ग्राम पंचायत दामापुर बाजार में वर्ष 2015-16 का आम बाजार और मवेशी बाजार ठेका 36 लाख रुपए में दिया गया था। दोनों ही ठेके की राशि आज तक पंचायत के खाते में जमा नहीं कराई गई है। पंचगण हिसाब न मांग लें, इसलिए बैठकें भी नहीं बुलाई जा रही है। राशि का हिसाब न देने से नाराज उपसरपंच और पंचों ने सरपंच- सचिव के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। जनपद सीईओ से लेकर कलेक्टर तक मामले की शिकायत की गई है, लेकिन अब तक जांच नहीं हुई। इस बात से नाराज पंचों ने आंदोलन की चेतावनी दी है। कलेक्टोरेट पहुंची पंच रामबाई, राजकुमारी, शिवकुमार, रामप्रसाद, सुनीता बनर्जी ने आरोप लगाते हुए कहा कि बाजार ठेके की राशि सरपंच- सचिव ने गबन कर ली है।

फिर ले आई स्टे: पूर्व में हुई शिकायत के बाद राशि गबन के मामले में सरपंच ममता चौहान को तत्कालीन एसडीएम ने बर्खास्त कर दिया था। पंचाें का कहना है कि राजनीतिक पहुंच की बदौलत वह तत्कालीन अपर कलेक्टर से स्टे ले आई।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Kawardha

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×