• Hindi News
  • Chhatisgarh
  • Kawardha
  • तत्कालीन सीएस डॉक्टर भूआर्य व अकाउंटेंट डीके सोनी पर होगी एफआईआर
--Advertisement--

तत्कालीन सीएस डॉक्टर भूआर्य व अकाउंटेंट डीके सोनी पर होगी एफआईआर

Kawardha News - जिला अस्पताल के तत्कालीन सिविल सर्जन डॉ.आरके भूआर्य व निलंबित अकाउंटेंट दिनेश कुमार सोनी के खिलाफ 2 करोड़ रुपए के...

Dainik Bhaskar

Jun 23, 2018, 02:40 AM IST
तत्कालीन सीएस डॉक्टर भूआर्य व अकाउंटेंट डीके सोनी पर होगी एफआईआर
जिला अस्पताल के तत्कालीन सिविल सर्जन डॉ.आरके भूआर्य व निलंबित अकाउंटेंट दिनेश कुमार सोनी के खिलाफ 2 करोड़ रुपए के गबन मामले में एफआईआर दर्ज की जाएगी। इसे लेकर कलेक्टर अवनीश कुमार शरण ने आदेश जारी कर दिया है। इस गबन मामले को भास्कर ने 18 अप्रैल के अंक में खुलासा किया था। दोनों कर्मचारियों द्वारा जिला अस्पताल के डीडीओ अकाउंट में 2 करोड़ 61 लाख 556 रुपए का गबन किया था। वर्तमान में डॉ.आरके भूआर्य मुंगेली जिला अस्पताल के सीएस व डीके सोनी स्वास्थ्य विभाग में अकाउंटेंट पद पर पदस्थ हैं।

जानिए,पूरा मामला:-आर्थिक गड़बड़ी को लेकर मई 2016 में जिला अस्पताल के पूर्व अकाउंटेंट दिनेश कुमार सोनी को निलंबित किया गया। अगस्त 2017 में स्वास्थ्य विभाग ने उसकी बहाली को लेकर तत्कालीन कलेक्टर नीरज कुमार बनसोड़ को अावेदन पेश किया। लेकिन बहाली से पहले उन्होंने जिला कोषालय अधिकारी देवेन्द्र चौबे के नेतृत्व में जांच कमेटी बनाई। टीम ने पाया कि डीडीओ कार्यालय से 2 करोड़ 61 लाख 546 रुपए और जीवनदीप समिति के 51 लाख 10 हजार 923 रुपए का हिसाब नहीं मिल सका।

18 अप्रैल को भास्कर में प्रकाशित।

1 माह का दिया गया था समय

कवर्धा.अकाउंटेंट दिनेश द्वारा अप्रैल से मई माह में एन्ट्री की जा रही थी

कार्रवाई का प्रस्ताव दिया था:-कमेटी ने सीएस व अकाउंटेंट को जीवनदीप समिति व डीडीओ अकाउंट को 1 माह के भीतर कैश बुक एंट्री करने का समय दिया था। एंट्री की मियाद 20 मई को ही पूरी हो गई थी। पूरी तरह से एंट्री नही किए जाने को लेकर जांच कमेटी ने कार्रवाई करने प्रस्ताव कर दिया। इसके बाद ही कयास लगाई जा रही थी कि दोनों के खिलाफ कार्रवाई की जा सकती है। इधर यह मामला राज्य स्तर पर भी चला गया है।

X
तत्कालीन सीएस डॉक्टर भूआर्य व अकाउंटेंट डीके सोनी पर होगी एफआईआर
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..